जिलाधिकारी  अभिषेक सिंह ने विकास कार्यक्रमों  की समीक्षा करते हुये मातहतों को दिये निर्देश

सोनभद्र।जिलाधिकारी  अभिषेक सिंह ने बृहस्पतिवार को विकास कार्यक्रमों  की समीक्षा करते हुये कहा कि शासन की मंशा के अनुरूप विकास परक कार्यक्रमों, जन कल्याणकारी योजनाओं व लाभार्थीपरक कार्यक्रमों को समयबद्ध तरीके से पूरी पारदर्शिता व गुणवत्ता के साथ पूरा किया जाय। कार्यदायी संस्थाओं पर शिथिल नियंत्रण रखने वाले वरिष्ठ अधिकारी कार्यों को मूर्त रूप देने के लिए ठोस कदम उठायें। विभागों के निर्माण कार्य को कार्यदायी संस्था पूरी जिम्मेदारी के साथ हरहाल में पूर्व लक्षित योजनाओं को पूरा कराना सुनिश्चित करें। सी एण्ड डीएस व ग्रामीण अभियंत्रण विभाग को अंतिम रूप से 15 दिन का समय अधूरे परियोजनाओं को पूरा करने का दिया जा रहा है। 15 दिनों के अन्दर लम्बे समय से लम्बित परियोजनाओं का काम पूरा न होने पर दोनों लापरवाह कार्यदायी संस्थाओं के खिलाफ विधिक कार्यवाही भी किया जायेगा।
     बैठक में जिलाधिकारी ने विकास कार्यों, लाभार्थीपरक व जन कल्याणकारी योजनाओं की बिन्दुवार समीक्षा की। बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी विभाग का कार्य करने में सम्बन्धित विभाग की वजह से कार्य बाधित हो रहा हों, तो आपसी समन्वय स्थापित करते हुए कार्य को पूरा किया जाय। उन्होंने कहा कि आईजीआरएस, मुख्य मंत्री शिकायती पोर्टल, जन शिकायती आदि का निस्तारण ससमय गुणवत्ता पूर्वक किया जाय। समीक्षा बैठक में सौभाग्य (प्रधान मंत्री सहज बिजली हर घर योजना), आयुष्मान भारत, प्रधान मंत्री जन धन योजना, प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधान मंत्री सुरक्षा बीमा योजना, निवेश मित्र झट-पट पोर्टल, कृषि बीज उर्वरक, रसायन, गौवंश, पशु टीकाकरण, कोविड-19 के संक्रमण से बचाव, स्वच्छ भारत मिशन, शहरी व ग्रामीण, अपशिष्टों का निस्तारण, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, मनरेगा, मिशन इन्द्र धनुष, स्टार्ट-अप इण्डिया, स्टैण्ड अप इण्डिया, पेंशन योजना (पति के मृत्यु के उपरान्त निराश्रित महिला,वृद्धावस्था, दिव्यांगजन सशक्तीकरण आदि), प्रधान मंत्री आवास योजना, पेयजल (हैण्डपम्पों का अधिष्ठान एवं रिबोर), राशन कार्ड, अनुसूचित जाति/जन जाति हेतु शादी योजना, अनुसूचित जाति/जनजाति हेतु निःशुल्क बोरिंग योजनाओं आदि का लाभ पहुंचाने का कार्य शत्-प्रतिशत किया जाय। उन्होंने कहा कि पात्रों/ग्रामीणों के घरों तक संचालित योजना को पहुंचना, वर्तमान में चल रहे विकास कार्यक्रमों का फीड बैक लेना, नई पहलुओं को अपनाना आदि महत्वपूर्ण योजनाओं की समीक्षा समीक्षा करते हुए लक्ष्य को पूरा करने के निर्देश सम्बन्धितों को दियें।
           बैठक में जिलाधिकारी  अभिषेक सिंह के अलावा मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 अमित पाल शर्मा, प्रभागीय वनाधिकारी  संजीव कुमार सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 नेम सिंह, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ0 के0 कुमार, जिला विकास अधिकारी  रामबाबू त्रिपाठी, अपर श्रमायुक्त श्री सरजूराम, परियोजना निदेशक  आर0एस0 मौर्या, डीसीएनआरएल श्री ए0के0 जौहरी, जिला अर्थ एवं संख्याधिकरी  ओ0पी0 यादव, मीडिया के नेसार अहमद, कार्यदायी संस्था के पदाधिकारीगण, जिला स्तरीय अधिकारीगण सहित अन्य सम्बन्धितगण मौजूद रहें।

Translate »