हरदुआगंज की नवनिर्मित 660 MW इकाई के परिचालन की कंसल्टेंसी NTPC को 1 साल के लिए देने की तैयारी  के विरोध में अभियंता संघ अनपरा सांकेतिक विरोध जताया

सोनभद्र।हरदुआगंज की नवनिर्मित 660 MW इकाई के परिचालन की कंसल्टेंसी NTPC को 1 साल के लिए देने की तैयारी करने के विरोध में अभियंता संघ अनपरा सांकेतिक विरोध जताया।बताते चले कि निदेशक तकनीकि एवं प्रबंध निदेशक उत्पादन निगम द्वारा जारी परफॉर्मेंस पैरामीटर्स संबंधित पत्र में एकमुश्त कई अधिकारियों को कार्यवाही करने के संबंध में अनपरा परियोजना सहित अन्य सभी परियोजनाओं को जारी पत्र एवं हरदुआगंज की नवनिर्मित 660 MW इकाई के परिचालन की कंसल्टेंसी NTPC को 1 साल के लिए देने की तैयारी करने के विरोध में अभियंता संघ अनपरा इकाई का परियोजना गेट संख्या 1 पर सांकेतिक विरोध सभा की गई तथा प्रबंधन की दमनात्मक नीतियों की भरभत्सना की गई । बताते चले कि दिनांक 28.02.2021 को अधिकारी मनोरंजन केंद्र में आकस्मिक सभा मे प्रस्तावित बिंदु के अनुपालन में आज सभी अधिकारियों की आज विरोध सभा हुई। सभा को संबोधित करते हुए इं जे के मिश्रा एवं इं रोहित राय ने कहा कि 30-35 साल की इकाइयों को गैरवाजिब तरीके से मनमाने टारगेट दे कर अनावश्यक रूप से अधिकारियों को दंडित करने और उनको हतोत्साहित करने का खेल चल रहा है जबकि इकाइयों की नीयत ओवरहालिंग बार बार मुख्यालय स्तर से टाला जाता रहा है। इसके बावजूद अनपरा की इकाइयां लगातार कम संसाधन पर भी कम लागत पर प्रदेश को बिजली प्रदान कर रहा है। O&M बजट में पिछले 10 सालों से कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है, जबकि कार्यों के एवं मैटेरियल लागत में लगातार बढ़ोतरी हुई है। इसके बावजूद प्रबंधन की तरफ से लगातार पैसे देने में लेट लतीफी हो रही है। अनपरा परियोजना प्रदेश सरकार की सबसे अच्छी परियोजना में आती है। मानक के अनुसार हर एक साल पर इकाइयों की वार्षिक ओवरहालिंग तथा हर तीन साल पर वृहद ओवरहालिंग की जानी होती है जबकि इकाई संख्या 4 की वृहद ओवरहालिंग वर्ष 2009 में आखिरी बार हुई थी। प्रबंधन को पहले परियोजना का O&M बजट बढ़ाना और नियत समय पर इकाइयों की ओवरहालिंग सुनिश्चित करना चाहिए। इकाई संख्या 1,2,3 एवं 5 और 6 लगातार अच्छे लोड पर चल रही है साथ ही APC में भी विगत वर्षों की तुलना में लगातार सुधार हुआ है फिर भी प्रबंधन फील्ड पर ईमानदारी से काम कर रहे अभियंताओं को दंडित करने में लगा हुआ है। जिससे कार्यसंस्कृति दूषित हो रही है और अधिकारियों को काम करने में डर लगने लगा है। प्रबंधन कही भी अपनी जिम्मेदारी तय नही करता है । प्रबंधन को चाहिए कि अपनी जिम्मेदारी भी तय करे कि उनकी नीतियों में क्या दिक्कत है जिससे टारगेट प्राप्त नही हुआ। गैरसम्भव टारगेट देना बंद करते हुए प्रबंधन बेहतर वर्क प्लान जारी करे इसके बावजूद भी अगर कुछ कमी रहने पर पहले उसका रिव्यु करें तथा लापरवाही पाए जाने पर जिम्मेदारी तय करे, बावजूद इसके प्रबंधन सामूहिक रूप से मेहनती अभियंताओं को दंडित करने में लगा हुआ है।
सभा को संबोधित करते हुए इं मनिंद्र नाथ ने कहा कि NTPC को अनपरा द ताप में भी कंसल्टेंसी दी गयी थी जिसका परिणाम सामने है, उनसे कोई भी लाभ परियोजना को नही मिला बावजूद इसके कि NTPC के पास Toshiba की कोई भी इकाई नही है, फिर भी हरदुआगंज की नवनिर्माण इकाई को Toshiba से मदद लेने की बजाय NTPC को देना हास्यास्पद है जबकि उत्पादन निगम में कर्मठ और बुद्धिमान अभियंताओं की कमी नही है और वो हर तरह से नई इकाई को चलाने के लिए तैयार है। अतः बाहरी एजेंसी के मद में निगम पर अनावश्यक आर्थिक बोझ न डालते हुए इस प्रस्ताव को तत्काल रोक लगाई जाय। अगर प्रबंधन अपने अधिकारियों एवं कर्मचारियों की जायज मांग नही सुनता है और तानाशाही रवैया अख्तियार किये रहता है तो अभियंता संघ मजबूरन निगम और प्रदेश हित में आंदोलन करने को बाध्य हो जाएगा जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी निगम प्रबंधन की होगी। सभा का संचालन इं अभिषेक बरनवाल ने किया। ध्यानाकर्षण सभा मे सैकड़ों अभियंता शामिल रहे।

[/responsivevoice]

अपने शहर का अपना एप अभी डाउनलोड करें .

Loading...
Translate »

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com