शहीद ए आजम भगत सिंह की जन्मदिवस पर बिजली विभाग निजीकरण के विरोध में अनपरा परियोजना विशाल मशाल जुलूस निकाला

शहीद ए आजम भगत सिंह की जन्म जयन्ती – संघर्ष की मशाल जलाए रखने का दिन

अनपरा सोनभद्र।संयुक्त संघर्ष समिति उत्तर प्रदेश के तत्वाधान में आज शहीद ए आजम भगत सिंह की जन्म जयंती पर बिजली विभाग निजीकरण के अनपरा परियोजना पर सायं 6:00 से 7:00 बजे के बीच में विशाल मशाल जुलूस निकाला गया। जुलूसका परियोजना गेट से शुरू होकर काशी मोड़ एवं ऊर्जा द्वार से होते हुए गाँधी उपवन चौराहे पर समाप्त हुई। सार्वजनिक क्षेत्र को बचाने की आजादी की इस दूसरी लड़ाई में मशाल जुलूस के माध्यम से महान क्रांतिकारी को श्रद्धा सुमन अर्पित इंकलाबी नारों से आवाज बुलंद करके रैली निकाली गई । जुलूस में निजीकरण के विरुद्ध में आवाज बुलंद करते हुए इंकलाबी नारों से सरकार को निजीकरण को वापस लेने की चेतावनी दी गई। सरकार महामारी के समय मे हर सरकारी संस्थाओं को पूजीपतियों के हित में बेचती जा रही है, और जनता और कर्मचारियों के हितों पर लगातार प्रहार कर रही है । अगर सरकार बिना कर्मचारी संगठनों की बात सुने और फैसले पर पुनर्विचार किये निजीकरण का प्रस्ताव वापस नही लेती है तो केंद्रीय नेतृत्व के अनुसार प्रदेश और देश भर के सारे कर्मचारी एवं जूनियर इंजीनियर तथा अभियंता हड़ताल पर चले जायेंगे जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी सरकार की होगी।विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति, शाखा अनपरा में जुलूस में सभी प्रमुख पदाधिकारी रोहित राय, हरिशंकर चौधरी, अभिषेक त्रिपाठी, सत्यम यादव,अभिषेक बरनवाल, सुशील श्रीवास्तव, शारदा प्रसाद, विशम्भर सिंह, विवेक सिंह, राजकुमार सिंह, विजय बहादुर, मनोज सिंह आदि तथा सैकड़ो जनमानस उपस्थित रहे।

Translate »