अनपरा तापीय परियोजना में उप महाप्रबंधक वित्त के पद पर कार्यरत रहे आरसी अग्रवाल की सबसे छोटी बेटी शाल्वी ने एसडीएम बन कर उल्लेखनीय सफलता अर्जित की

शाल्वी अग्रवाल आज एसडीएम बनीं। 46 रैंक है।
उनके पिता अनपरा परियोजना में उप महाप्रबंधक वित्त थे।

सोनभद्र।अनपरा तापीय परियोजना में उप महाप्रबंधक वित्त के पद पर कार्यरत रहे आरसी अग्रवाल की सबसे छोटी बेटी शाल्वी ने एसडीएम बन कर उल्लेखनीय सफलता अर्जित की है।
यू पी पी एस सी द्वारा घोषित परिणाम में सालवी ने 46 रैंक अर्जित की है। आर सी अग्रवाल की तीनों बेटियां प्रधानमंत्री के महत्वाकांक्षी अभियान बेटियां बचाओ बेटियां पढ़ाओ की साक्षात नजीर बन गई है उनकी पहली बेटी अंकिता जहां बैंक में वरिष्ठ अधिकारी है वही मंझली बेटी झारखंड न्यायिक सेवा के तहत धनबाद में सिविल जज है। अब सबसे छोटी शाल्वी ने भी इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए पहले जहां सीए होने का गौरव प्राप्त किया था अब वही एसडीएम के पद पर चयनित हुई हैं। उनकी यात्रा यहीं समाप्त नहीं हुई है उनका लक्ष्य आईएएस बनना है।
सालवी बचपन से ही अत्यंत प्रतिभाशाली रही हैं। अनपरा डीएवी से शिक्षा प्राप्त करते हुए हाई स्कूल में उन्होंने 96.8 अंक प्राप्त किए थे वही इंटर की परीक्षा में 92.5 प्रतिशत अंक प्राप्त किए थे । बी एच यू वाराणसी से बी कॉम की डिग्री हासिल करने के उपरांत निर्धारित समय सीमा में सीए की भी डिग्री हासिल की। शाल्वी ने अपनी सफलता का श्रेय अपनी मां मंजू अग्रवाल और अपने पिता के मार्गदर्शन को दिया है। शाल्वी की सफलता से अनपरा परियोजना में कार्यरत अधिकारियों और कर्मियों में हर्ष व्याप्त है।

Translate »