सावित्री देवी ने एसपी को नाबालिक लड़की के शादी होने की दी सूचना,पुलिस ने रुकवाया शादी

*एक नाबालिक की बची जिंदगी,खेलने के उम्र में हो रही थी शादी

कोन। जनपद सोनभद्र के थाना क्षेत्र कोन के गिधिया ग्राम पंचायत में नाबालिग लड़की की बालिक लड़के से पूरे रीति रिवाज के साथ परिवारजन द्वारा शादी करवाया जा रहा था जिस बात की शोरगुल आसपास ज्यादा न था।इस मामले की जानकारी स्थानीय लोगों द्वारा महिला सुरक्षा एवं जन सेवा ट्रस्ट की अध्यक्ष सावित्री देवी को दिया फौरन बिना समय गवाये इस मामले की जानकारी जनपद सोनभद्र के पुलिस अधीक्षक आशीष श्रीवास्तव को फोन द्वारा दिया गया जिसके बाद तत्काल इस प्रकरण को गंभीरता में लेते हुये प्रभारी निरीक्षक कोन को उनके द्वारा सूचना दिया गया उन्होंने मौके पर दल-बल के साथ पहुच फौरन एक नाबालिक बच्ची की गैर कानूनी शादी रुकवाया पुलिस को देख मण्डप से ज्यादातर लोग रफूचक्कर हो लिये।प्रभारी निरीक्षक ने परिवार से बैठ पूरे मामले में काफी समझाया व इस तरह लड़की की ज़िंदगी बर्बाद न करने की बात कही इस बात पर परिवार जन मान कर शादी स्थगित कर दिये।सावित्री देवी ने इस तरह तत्परता पुर्वक सोनभद्र पुलिस के कार्यवाही से नाबालिक बच्ची की बर्बाद होने वाली जिंदगी बचाने के लिये तारीफ की।वही सावित्री देवी ने कहा कि इस तरह के मामले सोनभद्र में कोई नया नही है इस तरह को शादी लगातार क्षेत्र में जागरूकता के अभाव,अशिक्षा,आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र गरीबी होने की वजह से होता रहा है।जिला प्रशासन को इस बाल विवाह पर समिति गठित कर व्यापक पैमाने पर ग्राम पंचायत स्तर पर जागरूकता अभियान चलाने की जरूरत है जिससे की हर क्षेत्र तक नाबालिक बच्चियों के विवाह करने से होने वाली समस्याओं की जानकारी हो सके।

Translate »