शक्तिनगर अपने आशियाना से बेघर हुये दर्जनों लोगों को मिशन -शक्ति  द्वारा भोजन का प्रबंध किया गया ।

शक्तिनगर ;सोनभद्र।एनटीपीसी-सिंगरौली विद्युत गृह के कर्मचारियों की संस्था मिशन कोरोना महामारी सहित क्षेत्र में आयी किसी भी आपदा तथा आपदा पिडितों की सेवा सहायता के कार्यो को बेहतर ढंग से अजाम दे रही है । कर्मचारियों के अंशदान के रूप में प्राप्त हो रहे सहयोग से कम समय में समाज सेवा के क्षेत्र में अनेकों कार्यो कर क्षेत्र में अपनी अच्छी पहचान कायम किये हुए है । गत दोपहर शक्तिनगर रेलवे स्टेशन के करीब दक्षिण बाजू में श्रमिक वर्ग के लोग अपने परिवार के साथ मेहनत मजदूरी के शहरे बसर करने वाले अपने ठहराव के लिए झुग्गी , झोपडी बना रखे हैं । रात्रि विश्राम और दिन भर मेहनत मजदूरी करने के बाद रात्रि विश्राम के मकसद बनायी गयी झोपडियां किसी व्यक्ति की लापरवाही से जल गयी । इसी स्थान पर किसी ने अपने झूले की राख जो पूरी तरह ठंडा हुए बिना ही खाली स्थान देखकर फेक दिया गर्मी के इस मौसम में थोडी से हवा के कारण इस स्थान की 13 झोपडियां पूरी तरह से जलकर राख में तब्दील हो गयी । इस अग्नि बारदात की सूचना मेन प्लांट स्थित फायर स्टेशन को प्राप्त होते ही दमकल कर्मी फायर गाडी के साथ पहुॅचे तथा आग बुझाने के साथ ही आग को वहीं पर नियंत्रित कर दिये , जिससे आग का विस्तार नही हो सका, आगे बुझने के साथ आगे नहीं फैल सही । ग्राम प्रधान चिल्काडाड एवं कोतवाली शक्तिनगर द्वारा इस मकसद की सूचना के साथ प्रभावितों को रात्री भोजन का प्रबंध करने का अनुरोध मिशन शक्ति के पदाधिकारियों से किया गया था उनके अनुरोध पर मिशन-शक्ति के पदाधिकारियो ने प्रभावित व्यक्तियों को राहत पहुॅचाने के मकसद से ग्राम प्रधान द्वारा दिये गये फूड किट के अतिरिक्त परषोत्तम लाल, उपमहाप्रबंधक मानव संसाधन के निर्देश पर प्रभावित के दो वक्त के भोजन का प्रबंध कराया गया । इस कार्य के लिए आदेश कुमार पाण्डेय , प्रबंधक मानव संसाधन- सहित मिशन-शक्ति के गौरव महतों तेजप्रताप मिश्र एवं कई पदाधिकारी प्रभावितों से मुलाकात किया भोजन पैकट प्रदान करने के साथ आगे से अपने निवास केन्द्र को सुरक्षित करने के साथ आग के प्रति किसी तरह की लापरवाही न करने की समझा गया।

Translate »