नीरज के गीत को शंकर जयकिशन ने कंपोज करने से मना किया था

[ad_1]
बाद में राजकपूर के कहने पर तैयार हुआ कालजयी गीत- ऐ भाई जरा देख के चलो…

[ad_2]
Source link

Translate »