देश प्रदेश में निरंतर बढ़ते जा रहे पत्रकार हमले से कलमकार आक्रोशित

पत्रकार सुरक्षा कानून बनाए सरकार: मिथिलेश द्विवेदी

सोनभद्र। देश प्रदेश में निरंतर बढ़ते पत्रकारों पर हमले को लेकर कलमकार अपने पत्रकारिता धर्म और कर्तव्य के निर्वहन को लेकर असमंजस की स्थिति में पहुंच देश काल और समाज के प्रति अपनी कलम की धार को कुंद होते देखने को मजबूर होते जा रहा है। ऐसे में देश प्रदेश की सरकारों को पत्रकार सुरक्षा कानून बनाकर पत्रकारों की निरंतर हो रही हत्याओं पर कुछ हद तक अंकुश लगाने और गंभीरता से

निर्णय लेकर उनकी जीवन रक्षा करने की जरूरत हैं।
यह बातें मीडिया फोरम आफ इंडिया (न्यास) के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष मिथिलेश प्रसाद द्विवेदी ने बुधवार को कहीं। उन्होंने 3 दिन पूर्व प्रतापगढ़ के इलेक्ट्रॉनिक चैनल से जुड़े पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की शराब माफियाओं द्वारा हत्या किए जाने की घटना को लोकतंत्र की हत्या बताते हुए तीव्र भर्त्सना की है। द्विवेदी ने केंद्र की मोदी सरकार और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार से निष्पक्ष और निर्भीक पत्रकारिता करने वाले पत्रकारों पर हो रहे हमले और शराब एवं भू माफियाओं द्वारा उनकी हत्या किए जाने की घटना को गंभीरता से लेते हुए अविलंब पत्रकार सुरक्षा कानून बनाकर कलमकारों की जीवन रक्षा करने और देश व समाज हित में निष्पक्ष और निर्भीक कलम चलाने हेतु उन्हें प्रोत्साहित करने की पत्रकार हित में मांग की है।
वही न्यास के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रमणि शुक्ला ने कहा है कि एक तरफ शासन – प्रशासन द्वारा यह प्रसारित किया जाता है कि पत्रकारों के हितों की रक्षा के प्रति वह सदैव तत्पर है। दूसरी तरफ जब भी पत्रकार अपनी निष्पक्ष और निर्भीक लेखनी का प्रयोग समाज हित में करता है तो उसे प्रताड़ना का शिकार होना पड़ता है। ऐसे में केंद्र व यूपी सरकार को चाहिए कि वह सदन में पत्रकार सुरक्षा कानून पारित कराकर पत्रकारों की जीवन रक्षा और उनकी कुंद होती जा रही कलम की धार को प्रवाहमान रखने में सहयोग करें।

Translate »

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com