अटल जी की जयंती पर फ़िल्मी सितारे उनकी कविताओं का पाठ करेंगे

पूर्व मुख्यमंत्री फड़णविस के हाथों विनय सहस्त्रबुद्धे को दिया जायेगा अटल सम्मान

★ भारतीय संस्कृतिक संबंध परिषद के अध्यक्ष व सांसद हैं डॉ विनय सहस्त्रबुद्धे

मुम्बई ।
पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी के जन्मदिन 25 दिसम्बर को मुंबई में इस बार एक खास समारोह का आयोजन हो रहा है।हिन्दी फिल्मों के सितारे अटलजी की कविताओं को प्रस्तुत करेंगे।और मधुमिता के डॉल्स एकेडमी द्वारा अटल जी की राजनीतिक काव्य यात्रा पर एक नृत्य नाटिका “अटल गीत गंगा” का भी आयोजन किया जायेगा।25 दिसंबर बुधवार को रात साढ़े आठ बजे विलेपार्ले पूर्व के दीनानाथ मंगेशकर सभागृह में आयोजित इस समारोह के मुख्य अतिथि पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणविस होंगे।
अटल महाकुंभ के आयोजक मुंबई बीजेपी के महामंत्री अमरजीत मिश्र ने बताया कि भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद के अध्यक्ष व सांसद डॉ विनय सहस्त्रबुद्धे को अटल सम्मान से सम्मानित किया जायेगा।इस अवसर पर विधानसभा मे पार्टी के मुख्य सचेतक आशीष शेलार,विधान परिषद मे विपक्ष के नेता प्रवीण दरेकर,पूर्व मंत्री विनोद तावडे,मुंबई बीजेपी के अध्यक्ष मंगलप्रभात लोढा ,संगठन मंत्री सुनील कर्जतकर आदि लोग अतिथि के रुप में उपस्थित रहेंगे।
फ़िल्म अभिनेता अखिलेंद्र मिश्र,हिमानी शिवपुरी,दिव्यांका त्रिपाठी दहिया व तारक मेहता सिरियल के जेठालाल दिलीप जोशी आदि कलाकार अटल जी की कविताओं का पाठ करेंगे।

पूर्व प्रधानमंत्री के जन्मदिन पर सामाजिक सांस्कृतिक संस्था “दीप कमल फाउंडेशन ” द्वारा आयोजित अटल गीत गंगा के इस आयोजन को लेकर अटल-प्रेमियों में जबर्दस्त उत्साह देखा जा रहा है। फाउंडेशन द्वारा अटल गीत गंगा का यह बारहवां आयोजन है। ।यह जानकारी फाउंडेशन के अध्यक्ष व मुंबई बीजेपी के महामंत्री अमरजीत मिश्र ने दी।

“दीप कमल फाउंडेशन ” के अध्यक्ष व मुम्बई बीजेपी के महामन्त्री अमरजीत मिश्र ने बताया कि अटल जी के राजनीतिक व सामाजिक यात्रा को समझने के लिए उनकी कविताओं को समझना बहुत जरुरी है। श्री अटल जी अपनी उनकी कविताओं के माध्यम से अपनी ख़ुशी,अपने दिल का गुबार और राजनीतिक उथल पुथल के बीच उनके भीतर चल रहे मंथन का जिक्र बड़ी साफगोई से करते थे।
कार्यक्रम के आयोजक अमरजीत मिश्र ने बताया कि जनसंघ से भाजपा की अपनी राजनीतिक यात्रा में अटलजी लंबे अरसे तक विपक्ष में रहे ।लोकसभा – राज्यसभा में उनका आचरण हर सदस्य के लिए अनुकरणीय है।उन्होंने नरसिंह राव की अल्पमत की सरकार और देवेगौड़ा -गुजराल की कमजोर सरकारों को भी मुद्दों के आधार पर जिस तरह का सकारात्मक सहयोग दिया ,उससे आज के विपक्षियों को सीखना चाहिए।अटलजी के सारगर्भित राजनीतिक व सामाजिक भाषणों और उनकी कविताओं पर फाउंडेशन ने एक डॉक्यूमेंट्री ” शब्दों के शिल्पी अटल” भी बनाई है,जिसका प्रदर्शन समारोह में किया जायेगा। कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों की मशहूर हस्तियां शामिल होंगी।

[/responsivevoice]

अपने शहर का अपना एप अभी डाउनलोड करें .

Loading...
Translate »

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com