बुन्देलखण्ड के सभी तालाबो व चेक डैमों की जियो टैगिंग 25 दिसम्बर तक करायी जाय-जलशक्ति मंत्री

कार्यों में लापरवाही के चलते अधिशासी अभियन्ता झांसी का चार्ज हटाया गया

निर्माण कार्यों की थर्ड पार्टी से जांच के निर्देश

अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 12 दिसम्बर। उत्तर प्रदेश के जलशक्ति मंत्री डा0 महेन्द्र सिंह ने बुन्देलखण्ड के सभी जनपदों के अभियन्ताओं को निर्देश दिये हैं कि आगामी 25 दिसम्बर तक सभी चेक डैमों तथा तालाबों की जियो टैगिंग सुनिश्चित करें। इसके साथ ही मानक अनुसार चेक डैमों व तालाबों का निर्माण की प्रक्रिया शुरू करें। इसके अलावा सभी अभियन्ता अपने-अपने क्षेत्र में चेक डैमों तथा तालाबों का स्थलीय निरीक्षण करके उसके कमियों को दूर करें।
डा0 महेन्द्र सिंह आज विधान भवन के कक्ष सं0-80 में लघु सिंचाई विभाग की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अधिकारी अपनी कार्यशैली में बदलाव लाकर सरकार के मंशा के अनुरूप योजनाओं का क्रियान्वयन सुनिश्चित करें अन्यथा उनके विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने झांसी, ललितपुर, महोबा, हमीरपुर आदि जनपदों का कार्य संतोषजनक न पाये जाने पर अधिकारियों को जमकर फटकार लगायी।
जनपद झांसी के अधिशासी अभियन्ता की प्रगति अधोमानक एवं पर्यवेक्षण कार्य शिथिल पाये जाने पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए प्रमुख सचिव, लघु सिंचाई को निर्देश दिए कि उनका चार्ज हटाकर किसी अन्य सक्षम अधिकारी को दिया जाय। उन्होंने कहा कि जो अभियन्ता फील्ड में कार्य करने में अक्षम एवं लापरवाह पाये जाते हैं उनके खिलाफ कठोर कार्यवाही करते हुए बाहर का रास्ता दिखाया जाय।
डा0 सिंह ने कहा कि बुन्देलखण्ड के विभिन्न जनपदों में पूर्व में तैनात सेवानिवृत्त अभियन्ताओं के कार्यकाल के कार्यों की भी जांच करायी जाय, जो अधिकारी मानक के अनुसार कार्य न किये हों उनकी थर्ड पार्टी से जांच कराकर उनके पेंशन से वसूली की जाय। उन्होंने सांसदों एवं विधायकों को पत्र लिखकर निर्माणाधीन योजनाओं का स्थलीय निरीक्षण एवं प्रगति के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए आग्रह करने के भी निर्देश दिए।
जलशक्ति मंत्री ने बुन्देलखण्ड के सभी जनपदों की योजनावार समीक्षा की तथा बुन्देलखण्ड पैकेज के तहत कराये जा रहे कार्यों के बारे में भी समीक्षा की। उन्होंने मुख्य अभियन्ता लघु सिंचाई को बुन्देलखण्ड के कार्यों पर सतत निगरानी रखने तथा मानक के अनुरूप योजनाओं का क्रियान्वयन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अधूरे चेक डैमों तथा तालाबों को 31 मार्च तक हरहाल में पूरा करा लिया जाय।
प्रमुख सचिव लघु सिंचाई, श्रीमती अनीता सिंह ने मंत्री जी की बैठक के पूर्व सभी अभियन्ताओं से प्रगति की जानकारी ली और बुन्देलखण्ड के विभिन्न जनपदों में निर्माणाधीन योजनाओं को निर्धारित समय में पूरा करने तथा चेक डैमों व तालाबों की जियो टैगिंग कराये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने जलशक्ति मंत्री को आश्वस्त किया की आगामी 25 दिसम्बर तक जियो टैगिंग का कार्य पूरा कर लिया जायेगा तथा तालाबों व चेक डैमों के निर्माण की प्रक्रिया तेजी से पूरी कराते हुए निर्धारित समय में पूरा किया जाय।
समीक्षा बैठक में विशेष सचिव जुहेर बिन सगीर, मुख्य अभियन्ता राजीव कुमार जैन, अधीक्षण अभियन्ता अलोक कुमार सिन्हा व वीरेन्द्र कुमार तथा के0पी0 वर्मा, शैलेश कुमार, विजय कुमार, हरि मोहन प्रकाश, अधिशासी अभियन्ता गण मौजूद थे।

[/responsivevoice]

अपने शहर का अपना एप अभी डाउनलोड करें .

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com