प्रदेश में उपभोक्ताओं के लिए पोषणीय आवश्यकता, रोजगार सृजन एवं आर्थिक दृष्टि से नकदी फसल के रूप में आलू का महत्वपूर्ण योगदान है-श्रीराम चैहान

लखनऊ। लखनऊ: दिनांक 11नवम्बर, 2019
उत्तर प्रदेश के उद्यान राज्यमंत्री (स्वतन्त्र प्रभार) श्रीराम चैहान ने कहा कि उत्तर प्रदेश देश का प्रमुख आलू उत्पादक राज्य है। प्रदेश में उपभोक्ताओं के लिए पोषणीय आवश्यकता, रोजगार सृजन एवं आर्थिक दृष्टि से नकदी फसल के रूप में आलू का महत्वपूर्ण योगदान है। देश के कुल उत्पादन का 30 से 35 प्रतिशत आलू का उत्पादन उत्तर प्रदेश में उत्पादित होता है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में वर्ष 2018-19 में 6.10 लाख हे0 क्षेत्रफल में लगभग 147.77 लाख मी0टन आलू का उत्पादन है।
श्री चैहान ने बताया कि आलू उत्पादन में वृद्धि के लिए प्रदेश में संचालित है। उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग के अधीन संचालित जनपदों में स्थित राजकीय प्रक्षेत्रों मंे 169.38 हे0 में प्रमाणित आलू बीज का उत्पादन लक्ष्य है। आलू बीज सम्बर्द्धन कार्यक्रम हेतु कुफरी बहार, कुफरी चिप्सोना-1,2,3 व 4 कुफरी बादशाह, कुफरी आनन्द, कुफरी पुखराज, कुफरी सोना, कुफरी ख्याति, कुफरी सदाबहार, कुफरी गरिमा, कुफरी सिन्दूरी, कुफरी मोहन, कुफरी फ्राइसोना प्रजाति से कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि वर्ष 2018-19 में प्रदेश के राजकीय प्रक्षेत्रों पर उत्पादित 43328.50 कुन्तल आधारीय श्रेणी का आलू बीज रबी 2019 में किसानों के मध्य वितरण हेतु उपलब्ध है। वर्ष 2019-20 मंे आलू बीजों की प्रत्येक प्रजाति की प्रत्येेेक श्रेणी पर रू0 1000/- प्रति कुन्तल की छूट प्रदान की गयी है। इस प्रकार आलू बीज की विक्रय दरें आधारित प्रथम रू0 1745/- प्रति कुन्तल, ओवर साइज रू0 1320/- प्रति कुन्तल एवं टुथफुल/प्रमाणित रू0 1205/- प्रति कुन्तल निर्धारित है।
उद्यान मंत्री ने बताया कि आलू विकास नीति-2014 के अन्तर्गत प्रदेश के आलू किसानों के निजी खेतों में प्रसंस्कृत प्रजाति- कुफरी चिप्सोना-1, कुफरी सूर्या, आदि की प्रजातियों का जनपद हाथरस, अलीगढ़, फिरोजाबाद, मथुरा, कानपुर नगर, इटावा, कन्नौज, तथा फर्रूखाबाद में 64 हे0 में आलू बीज उत्पादन करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने बताया कि किसानों को उ0प्र0 राज्य बीज प्रमाणीकरण संस्था से पंजीकरण, निरीक्षण ग्रेडिंग, पैकिंग एवं टैगिंग, कराने के उपरान्त रू0 25000/- प्रति हे0 की दर से अनुदान दिया जायेगा।
श्री चैहान ने बताया कि वर्ष 2019-20 में किसानों के उत्पादित आलू का उचित मूल्य दिलाने हेतु आलू विकास नीति-2014 के अन्तर्गत देश के अन्य प्रान्तों में विपणन को प्रोत्साहित करने के लिए 06 एक दिवसीय आलू प्रदर्शनी एवं बायर सेलर मीट उ0प्र0 औद्यानिक विपणन संघ लि0 (हाॅफेड) द्वारा आयोजन किया जा रहा है।

अपने शहर का अपना एप अभी डाउनलोड करें .

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com