Wednesday , September 28 2022

अक़ीदतमंदों ने इमाम हुसैन के सम्मान में फातेहा कराई , अक़ीदतमंदो को शीरनी वितरित की गई

अनपरा(सोनभद्र)। इस्लाम धर्म के अलम्बरदार शहीदाने कर्बला हज़रत इमाम हुसैन सल्लल्लाह अलैह व सल्लम की याद में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी ताजिये का जुलूस अनपरा बाजार, वेंकट मोड़, नूरिया मोहल्ला, डिबुलगंज,पिपरी सोनवानी से अक़ीदत के साथ नम आंखों से काशी मोड़ से होता हुआ डिबुलगंज स्थित कर्बला में दफन किया गया। रास्ते भर हुसैन के चाहने वाले नौहा पढ़ते हुए गम का इज़हार करते हुए दिखाई दिये, रास्ते भर युद्ध की कलाबाज़ी और करतब का प्रदर्शन करते हुए नज़र आये। इसके पूर्व मुहर्रम की नवमी की रात को चिन्हित स्थानो पर स्थित इमाम चौक पर ताज़िया रखा गया जहां अक़ीदतमंदों ने इमाम हुसैन के सम्मान में फातेहा कराई तथा इमाम चौक पर मौजूद सभी अक़ीदतमंदो को शीरनी वितरित की गई, तत्पश्चात अनपरा बाजार, वेंकट मोड़ और नूरिया मोहल्ला के ताजिया का मिलान करा कर पूरे मोहल्ला में घुमाया गया। मुहर्रम के ताजिये को सकुशल सम्पन्न कराने में हुसैनी कमेटी के सरपरस्त सुल्तान शहरयार खान, पूर्व जिलाध्यक्ष सपा संजय यादव, सदर ज़ुल्फ़िक़ार अली, सचिव अय्यूब खान नायला, खजांची शफीक खान, शहज़ाद अली, शानू खान, शानू राईन, राजू राइन, कैसर रज़ा, जलालुद्दीन, शेख यूनुस इमरान, जावेद खान, शौकत अली नागेंद्र यादव, शब्बीर अली, राहत अली का योगदान सराहनीय रहा। अनपरा कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक शैलेश राय, चौकी इंचार्ज रेनुनुसागर कुमार संतोष और उनके सिपाहियों के द्वारा सुरक्षा की चाक चौबंद व्यवस्था की गई

Translate »