मोरवा के पॉश इलाके में फिर हुई चोरी, सूने पड़े आवास में चोरों ने लगाई सेंध

सिगरौली।

मोरवा थाना क्षेत्र के एलआईजी शिवमंदिर रोड स्थित एक सूने पड़े आवास में चोरों ने सेंध लगाकर लाखों के माल पर हाथ साफ कर दिया। घटना की जानकारी तब लगी जब गृह स्वामी की मां घर की सफाई करवाने वहां पहुंची, वहां आवास का टूटा ताला व बिखरा हुआ समान देखकर अवाक रह गई। इसकी सूचना उन्होंने अन्य लोग और पुलिस को दी। मौके पर पहुंचे *निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह* ने घर का मुआयना कर अज्ञात चोरों के विरुद्ध चोरी का मामला मामला दर्ज कर लिया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार चोरी एलआईजी रोड स्थित शिव मंदिर समीप बने सेंट मैरी स्कूल के सामने निवासरत *सुरेंद्र जैन पिता रामनिवास जैन* के सूने पड़े आवास में 9 य 10 की दरमियानी रात हुई है, जिसकी जानकारी गुरुवार को लगी जब उनकी *मां अनारकली जैन* घर की सफाई कराने पहुंची। बताया जाता है कि गृह स्वामी *व्यवसाई सुनील जैन* पिछले माह के 20 तारीख से ही कार्य हेतु दिल्ली गए हुए थे और चोरों ने इस बात की जानकारी कर पूरे इत्मीनान से घर को खंगाला है। चोरी की सूचना मिलने के बाद दल बल के साथ मौके पर पहुंचे *निरीक्षक नागेन्द्र प्रताप सिंह* ने घटना स्थल का जायजा लेकर सबूत इकट्ठा करने का प्रयास किया। मोरवा पुलिस को आवास से चोरों के पैरों के निशान भी मिले हैं।

*कबाड़ीओं द्वारा की गई चोरी*
चोरी की वारदात को देखकर यह अंदाजा लगाया जा रहा है की यह चोरी कबाड़ीओं द्वारा की गई है। घर के दरवाजे को तोड़ने के लिए रोड का इस्तेमाल किया गया। वहीं टीवी, महंगी साड़ियां छोड़ शातिर चोर सोने चांदी के जेवरात समेत 60000 नगदी लेकर चंपत हो गए है। गृह स्वामी ने थाने में लिखित तहरीर देकर बताया की चोरों ने चांदी के 10 नग पायल, 25 नग बिछिया, चांदी के बर्तन समेत सोने की 2 जंजीर, 2 मंगलसूत्र, 8 अंगूठी व 60000 नगदी समेत कुल पांच लाख के माल पर हाथ साफ कर दिया है।

*पॉश इलाके में हुई चोरी से पुलिस गश्त पर उठाए सवाल*
बीते 3 महीने में एलआईजी रोड व गायत्री मंदिर रोड के मध्य चौराहे पर हुई दूसरी बड़ी चोरी से पुलिस गश्त पर सवाल उठ खड़े हुए हैं। यह इलाका मोरवा क्षेत्र के पॉश इलाकों में माना जाता है। जहां सिंगरौली विधायक समेत क्षेत्र के कई नामचीन लोग निवासरत है। चोरी से पुलिस की कार्यप्रणाली पर इसलिए भी सवाल उठते हैं क्योंकि 3 माह पूर्व भी यहां के एक आवास में लाखों की चोरी को बड़े शातिर आना तरीके से चोरों ने अंजाम दिया था जिसकी जांच अभी भी जारी है, और चोर पुलिस की पकड़ से दूर है। स्थानीय लोगों का मानना है कि बीती चोरी से पुलिस ने कोई सबक नहीं लिया है इसका परिणाम यह दूसरी चोरी है और पुलिस अभी भी लकीर पीटने में लगी है।

*पुलिस की साख का बना सवाल*
बीते दिनों पुलिस कप्तान ने कई थानों के टीआई को इधर से उधर स्थानांतरित किया था। जिसके बाद मोरवा थाने का प्रभार निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह को मिला है। उनके प्रभार संभालने के सप्ताह भर के अंदर चोरी के इस वारदात ने पुलिस अधिकारियों की नींद उड़ा दी है और इन चोरों को जल्द पकड़ना अब पुलिस की साख का सवाल बन गया है। अतः पुलिस हर एंगल से तफ्तीश कर चोरों को पकड़ने में लगी है।

Translate »