Wednesday , September 28 2022

वोकल फॉर लोकल की अवधारणा के तहत टीएफसी लालपुर में प्रदर्शनी का आयोजन

वाराणसी से पुरुषोत्तम चतुर्वेदी की रिपोर्ट

ओडीओपी प्रदर्शनी में विभिन्न योजनाओं से संबंधित 20 लाभार्थियों को 393 लाख रुपए का चेक वितरण हुआ

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अंतर्गत 100 लाभार्थियों को प्रमाण पत्र का वितरण किया गया

संजय मेमोरियल महिला कॉलेज की छात्राओं को 110 स्मार्टफोन का भी वितरण किया गया

वोकल फॉर लोकल की अवधारणा को सभी मिलकर साकार बनायें

काशी में ब्रांडिंग की जरूरत नही होती, क्योंकि पूरे विश्व से लोग बनारस आते हैं जिससे यहाँ के उत्पादों की ब्रांडिंग स्वतः पूरे विश्व में हो जाती है

वोकल फॉर लोकल की अवधारणा के तहत टीएफसी लालपुर में प्रदर्शनी का आयोजन

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन 17 सितम्बर से शुरू हुए सेवा पखवाड़ा के अंतर्गत आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना को साकार करने के लिए 'वोकल फॉर लोकल' के तहत टीएफसी बड़ा लालपुर में प्रदर्शनी व सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में प्रदेश सह-प्रभारी सुनील ओझा व विशिष्ट अतिथि के रूप में महापौर मृदुला जायसवाल मौजूद रहीं। दस दिवसीय प्रदर्शनी (23 सितम्बर से शुरू होकर 2 अक्टूबर तक) में बनारस व आसपास के ही 51 स्टाल लगे हैं। मुख्य अतिथि सुनील ओझा ने प्रदेश सरकार की 'एक जिला एक उत्पाद' योजना पर प्रकाश डालते हुए कहा कि इससे लोगों को रोजगार व आमजन को लाभ मिल रहा है। काशी के सिल्क उत्पाद, गुलाबी मीनाकारी व लकड़ी के खिलौनों की मांग पूरे विश्व में है, जिसको सरकार ने एक जिला एक उत्पाद के तहत शामिल करके और बढ़ावा देने का काम किया है। उन्होंने काशी की तारीफ करते हुए कहा कि यहाँ ब्रांडिंग की जरूरत नही होती क्योंकि पूरे विश्व से लोग बनारस आते हैं जिससे यहाँ के उत्पादों की ब्रांडिंग स्वतः पूरे विश्व में हो जाती है। प्रधानमंत्री के वोकल फॉर लोकल के तहत किये गए प्रयास का ही नतीजा है कि प्रवासी भारतीय सम्मेलन के दौरान बनारस के सामानों की खरीद व चर्चा पूरे विश्व में हुई। प्राचीन भारत की बात करते हुए उन्होंने शुश्रुत की शुश्रुत संहिता पर प्रकाश डाला व बताया कि 4600 साल पहले ही हमारे पास काशी में मानव चिकित्सा की सभी विधा मौजूद थी। ये हमारे अतीत के गौरव की याद दिलाती है, पुनः हमें अपना गौरव वापस पाना होगा। ये हमारे आत्मनिर्भर बनने से ही संभव होगा जिसपर प्रधानमंत्री लगातार काम कर रहे हैं। उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद लोगों से मेले में कम से कम कोई एक उत्पाद खरीदने को कहा तथा इस मेले को सोशल मीडिया व अन्य माध्यम से लोगों के बीच प्रचारित करने पर जोर दिया। ताकि उत्पादों के खरीददार मिल सकें। श्री ओझा ने विदेशियों द्वारा एनजीओ के माध्यम से भदोही व आस-पास के क्षेत्रों में प्रचलित कालीन व्यवसाय को नष्ट करने को आड़े हाथों लिया व कहा कि परंपरागत उद्योग को नष्ट होने से बचाने को सबको मिलकर काम करना होगा। कार्यक्रम में सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन विभाग द्वारा उद्योग बढ़ावे के संबंध में किये जा रहे प्रयासों की जानकारी दी गयी तथा लोगों को विभाग द्वारा दिए जा रहे टूलकिट की जानकारी भी दी गयी कार्यक्रम में आदिवासी समाज के लोगों द्वारा गोंडिया नृत्य प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम में संयुक्त आयुक्त, उद्योग उमेश सिंह द्वारा स्वागत भाषण दिया गया। उद्योग जगत के विपिन अग्रवाल व राजेश भाटिया द्वारा भी विचार व्यक्त किया गया। इस अवसर पर एक जनपद एक उत्पाद योजना, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना एवं विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को चेक एवं प्रमाण पत्र वितरित किए गए। मुख्यमंत्री युवा रोजगार योजना के अंतर्गत मैन्युफैक्चरिंग ऑफ़ एग ट्रे के लाभार्थी कृपा नारायण सिंह को 25 लाख, ग्रोसरी के रविकांत को 25 लाख, रेस्टोरेंट उद्योग के के अमित शर्मा को 10 लाख, पावर लूम के गुड्डू पटेल को 10 लाख, सीमेंट ब्रिक्स के शुभम कुमार सिंह को 15 लाख, स्वचालित पैकिंग मशीन की रीना सिंह तथा सिल्क साड़ी निर्माण के धीरेंद्र श्रीवास्तव को 25-25 लाख सहित 07, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना के अंतर्गत मशीन के शुभम साहू को जरी मशीन उद्योग के शुभम साहू को 25 लाख, पावर लूम की सुनीता सिन्हा को 18 लाख, पावर लूम उद्योग के मनीष कुमार को 20 लाख, जरी सिल्क साड़ी के मोहम्मद जैद को 20 लाख, दोना पत्तल उद्योग के राहुल पटेल को 10 लाख, सिल्क साड़ी के मनोज कुमार मौर्य को 20 लाख, पावर लूम के प्रमोद कुमार को 10 लाख तथा प्लास्टिक स्क्रैब की किरण भारती को 25 लाख सहित 07, एक जनपद एक उत्पाद योजना अंतर्गत सिल्क साड़ी निर्माण के लिए फुरकान हैदर को 30 लाख, धर्मेंद्र कुमार, विनायक कुशवाहा व सतेन्द्र कुमार को 25-25 लाख, जय किशन पटेल व मोजामिल हसन को 10-10 लाख सहित 06 कुल 20 लाभार्थियों को 393 लाख रुपए का चेक वितरण किया गया। साथ ही विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अंतर्गत 100 लाभार्थियों को प्रमाण पत्र वितरण किया गया।

इसके अलावा संजय मेमोरियल महिला कॉलेज की छात्राओं को 110 स्मार्टफोन का भी वितरण किया गया।
कार्यक्रम में भाजपा के प्रदेश कोषाध्यक्ष मनीष कपूर, कार्यक्रम संयोजक नवीन कपूर, महानगर जिलाध्यक्ष विद्यासागर राय व पार्टी पदाधिकारी मौजूद रहे।

Translate »