Wednesday , September 28 2022

एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स ने काशी विश्वनाथ मंदिर में श्रृद्धालुओं के लिए मेगा वाटर प्योरिफायर बूथ शुरू किया

पुरुषोत्तम चतुर्वेदी की रिपोर्ट

यह वॉटर एक्टिवेशन अभियान भारत में समुदायों को अपना योगदान देने की एलजी की प्रतिबद्धता के अनुरूप है

वाराणसी: भारत के अग्रणी कंज़्यूमर ड्यूरेबल ब्रांड, एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स ने श्रावणमास मेला के अवसर पर श्रृद्धालुओं को शुद्ध पेयजल प्रदान करने के लिए 1 अगस्त, 2022 से काशी विश्वनाथ मंदिर में एक मेगा वाटर प्योरिफायर एक्टिवेशन शुरू किया है। मंदिर में एक मेगा एक्टिवेशन वाटर प्योरिफायर बूथ में स्थापित आठ वाटर प्योरिफायर के साथ एलजी 4 लाख से ज्यादा श्रृद्धालुओं को सेवाएं दे चुका है।वाटर प्योरिफायर एक्टिवेशन 1 अगस्त से 10 अगस्त तक चल रहा है। एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स को यहां पर 15 लाख लोगों के आने की उम्मीद है। एलजी का उद्देश्य इस मेले में श्रृद्धालुओं को शुद्ध पेयजल प्रदान करना है। समाज को अपना योगदान देने और सार्थक सीएसआर विधियों में यकीन के साथ एलजी श्रृद्धालुओं के लिए एक सुरक्षित वातावरण का निर्माण करना चाहता है।वाटर प्योरिफायर एक्टिवेशन कैंप के बारे में, श्री संजय चितकारा, सेल्स हेड, एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स इंडिया ने कहा, ‘‘एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स को इस अभियान की घोषणा करने पर गर्व है क्योंकि सभी के लिए शुद्ध जल की व्यवस्था बनाए रखना हम सभी की जिम्मेदारी है। शुद्ध जल हर मौसम में, खासकर गर्मियों में हम सभी के लिए जरूरी है। हम अपने संसाधनों की मदद से मेला में ज्यादा से ज्यादा श्रृद्धालुओं को शुद्ध जल प्रदान करने के लिए आशान्वित हैं।’’एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स भारत के साथ आगे बढ़ने में यकीन रखता है और हमारे देश के विकास की नींव को मजबूत करना चाहता है। इसके लिए एलजी ने अनेक उपाय किए हैं। उपरोक्त प्रयास बेहतर एवं जिम्मेदार मानवीय राहत प्रयासों के प्रतिबिंबित करता है और समाज के साथ एक मजबूत रिश्ता कायम करने की कंपनी की प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करता है। एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स ने हाल ही में भूख के खिलाफ भारत की लड़ाई में योगदान देने के लिए अक्षय पत्र फाउंडेशन के साथ सहयोग किया है और उत्तर प्रदेश में 5000 विद्यार्थियों के लिए मध्यान्ह भोजन का योगदान दिया है।

Translate »