प्रधानमंत्री के काशी क्षेत्र के प्रति लगाव से यहां इंफ्रास्ट्रक्चर विकास व आमजन के कल्याणकारी व्यापक योजनाएं संचालित हैं- मंत्री डॉ महेंद्र नाथ पांडेय

डॉ महेंद्र नाथ पांडेय, मंत्री, भारत सरकार की अध्यक्षता में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति “दिशा” की बैठक संपन्न हुई

पुरुषोत्तम चतुर्वेदी की रिपोर्ट

उज्जवला योजना में गत वर्ष तक 176166 लाभार्थियों को निशुल्क गैस कनेक्शन दिए जा चुके हैं

आईडीपीएस योजना से काशी में झूलते विद्युत तारों से निजात मिली, अंडरग्राउंड विद्युत केबल से विद्युत चोरी भी बहुत कम हुई जिससे लाइन लास 60-70 से घटकर 19 फीसदी पर आ गया है

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार केंद्र के समस्त योजनाओं को प्रभावी व युद्ध स्तर पर लागू कर रही है, अनेकों योजनाओं में उत्तर प्रदेश प्रथम स्थान पर है-डॉ महेंद्र नाथ पांडेय

मुख्यमंत्री योगी जी काशी पर विशेष फोकस रखते हैं- डॉ महेंद्र नाथ पांडेय वाराणसी। भारत सरकार के मंत्री डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडे की अध्यक्षता में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति "दिशा" की बैठक शनिवार को सर्किट हाउस सभागार में संपन्न हुई। पूर्व बैठक 31 अगस्त, 2020 को विभिन्न जनप्रतिनिधियों द्वारा रखे गए प्रकरणों के कार्यवृत्त के एजेंडा बिंदुओं पर हुई अनुपालन आख्या को बिंदुवार प्रस्तुत किया गया। सारनाथ क्षेत्र में स्थापित 9 नलकूपों की स्थिति, औचित्य की जांच समिति जिसमें एडीएम, जल निगम, जलकल के अधिकारियों से कराने के निर्देश दिए गए। करसड़ा में कूड़ा डंपिंग स्थल से दुर्गंध निदान हेतु नगर निगम को कहा गया। करसड़ा व जाल्हुपुर में इलेक्ट्रिक पशु शवदाह गृह स्टेशन बन रहा है। जिला पंचायत को ग्रामीण क्षेत्र में मृत पशु शव निस्तारण की व्यवस्था करने को कहा गया। कैंट विधानसभा के सामने घाट- छित्तूपुर में जलभराव की समस्या समाधान हेतु नाले पर फाटक लगवाने तथा टिकरी से सामने घाट- संत रविदास पार्क तक तटबंध हेतु 5 करोड रुपए शासन ने उन्मुक्त कर दिए हैं। शीघ्र कार्य कराने के निर्देश दिए गए। पिंडरा, धौकलगंज, कठिराव, बड़ागांव एवं फूलपुर कस्बे में जल निकासी हेतु नाली निर्माण कराया जा रहा है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की सगन समीक्षा हेतु अध्यक्ष डॉ महेंद्र नाथ पांडेय ने विशेष बैठक अलग से रखने के निर्देश दिए। बाढ़, भारी बरसात आदि दैवी आपदा में किसी गरीब का मकान गिरता/क्षतिग्रस्त होता है तो उसे मुख्यमंत्री आवास योजना में आवास बनेगा। नगर निगम में जुड़े गांव में सर्वे कराया जा रहा है, सभी पात्र लोगों को प्रधानमंत्री आवास शहरी में आवास दिया जाएगा। अनिवार्य बाल शिक्षा अभियान में बनारस में अच्छा लाभ बच्चों को मिल रहा है। इस वर्ष इस योजना में 17000 बच्चों का एडमिशन हुआ है। अध्यक्ष डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय ने मानव सेवा की निशुल्क खाद्यान्न योजना को अच्छे से क्रियान्वित पर बल दिया। कोरोना प्रभावित काल में इसका बहुत महत्व है। ग्रामीण क्षेत्रों में पीडब्ल्यूडी की सड़कों के किनारे मनरेगा से पटरी निर्माण का सुझाव दिया गया। बैठक में बताया गया कि उज्जवला योजना में 2020-21 तक 176166 लाभार्थियों को निशुल्क गैस कनेक्शन दिया जा चुका है तथा अगले फेज में इस वर्ष गैस कनेक्शन दिया जा रहा है। किसानों को जैविक खेती हेतु 846 कलस्टर गठित किए जा रहे हैं। वर्ष 2021-22 में 28109 मृदा स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। किसानों को अपनी उपज को अधिक से अधिक मूल्य पाने हेतु ई-नेशनल एग्रीकल्चर मार्केट्स को बढ़ावा दिया जा रहा है। आईटीपीएस के कई फेजों में काशी में भूमिगत विद्युत केबल करना, फीडरों का सुधरीकरण आदि कार्य हुए। जिससे बिजली लाइन लास 60-65 से घटकर 19 पर आ गया है। यह बड़ा काम बनारस में हुआ है। आयुष्मान भारत के तहत 52507 लोग उपचारित हुए। 2 लाख 76 हजार गोल्डन कार्ड बन चुके हैं और पात्रों के कार्ड बनाए जा रहे हैं। ग्रामीण कौशल्य योजना में इस वर्ष 2591 युवाओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। जिसमें 1364 युवाओं को रोजगार मिल चुका है। बैठक में मनरेगा, अंत्योदय योजना, सामाजिक सहायता कार्यक्रम, सुगम्य भारत अभियान, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, ग्रामीण पेयजल, कृषि सिंचाई योजना, फसल बीमा योजना, कृषि विकास योजना, डिजिटल भारत भू अभिलेख कार्यक्रम, ग्रामीण ज्योति योजना, राष्ट्रीय रुवन मिशन, पशु पालन, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन, प्रधान मंत्री आदर्श ग्राम योजना, इंफ्रास्ट्रक्चर संबंधी योजनाएं, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा, समेकित बाल विकास योजना, सर्वशिक्षा, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, अटल मिशन फॉर रिजर्वेशन एंड अर्बन ट्रांसफॉरमेशन, विरासत शहर विकास और वृद्धि योजना आदि की बिंदुवार विस्तार से समीक्षा हुई। 5 घंटे अनवरत चली बैठक में जनप्रतिनिधियों ने योजनाओं के क्रियान्वयन, पूर्व बैठक के प्रकरणों में अनुपालन कार्यवाही पर अधिकारियों से विस्तार से पूछताछ की तथा बैठक में अपने सुझाव रखे। अध्यक्ष मंत्री डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय ने विद्युत विभाग व स्वास्थ्य विभाग की अलग से बैठक के निर्देश दिए तथा अधिकारियों को निर्देशित किया कि जनप्रतिनिधियों के सुझाव पर तत्काल कार्यवाही करें। योजनाओं एवं उनकी रुपरेखा, प्रगति आदि की जानकारी जनप्रतिनिधियों को दें। उन से सतत संपर्क रखें व उनकी सहभागिता ले। स्मार्ट सिटी की बैठक जनप्रतिनिधियों के साथ कर ले और उन्हें पूर्ण हुए कार्यों, निर्माणाधीन कार्यों आदि से अवगत कराएं। बैठक में मंत्री, जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम मौर्या, एमएलसी शतरुद्र प्रकाश, विधायक पिंडरा डॉ अवधेश सिंह, विधायक केंट सौरभ श्रीवास्तव, विधायक रोहनिया सुरेंद्र नारायण सिंह, एमएलसी आशुतोष सिन्हा सहित समिति के अन्य सदस्य, अधिकारीगण उपस्थित थे। बैठक का संचालन जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने किया। जिलाधिकारी ने सभी का स्वागत व धन्यवाद ज्ञापित किया।

Translate »

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com