प्रोजेक्टर पर शिक्षकों ने सीखा शिक्षण तकनीकों के गुण

घोरावल/सोनभद्र।
ब्लाक संसाधन केन्द्र घोरावल में आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिका, समृद्ध हस्तपुस्तिका ,प्रिन्ट रिच मैटेरियल एवं गणित किट पर आधारित दो दिवसीय शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम मां शारदे की वन्दना व बीईओ उदय चन्द राय के उद्बोधन से प्रारम्भ हुआ।

सम्पूर्ण कोरोनाकाल में जब बच्चे विद्यालय से दूर थे ,इस दौरान बेसिक शिक्षा विभाग ने गुणवत्तापूर्ण शिक्षा हेतु संसाधनों व शिक्षकों के कौशल निखार हेतु भरपूर प्रयास किया है। उसी क्रम में जब विद्यालय एक मार्च से खुलने जा रहे हैं तो कक्षा कक्ष की परिवर्तित छवि ,

प्रेरणा लक्ष्य को प्राप्त करने की शैक्षिक तकनीकों व प्रारम्भिक कक्षाओं में बच्चों को गणित की अवधारणाओं को मूर्त रूप से प्राप्त कराने हेतु नवीन तकनीकों द्वारा प्रशिक्षित किया गया।
बताते चलें कि यह प्रशिक्षण सम्पूर्ण प्रदेश में प्राथमिक शिक्षकों का होना है। कोविड प्रोटोकॉल को ध्यान में रखकर प्रोजेक्टर और वेब कैमरे की निगरानी में दो कक्षों में तीस-तीस की संख्या में शिक्षकों का प्रशिक्षण हुआ। पूरे प्रशिक्षण का मिनट टू मिनट कार्यक्रम परियोजना कार्यालय लखनऊ से प्राप्त हुआ है और जिसकी मानिटरिंग सीमैट ईलाहाबाद व एसपीओ लखनऊ द्वारा आनलाईन और आफलाइन की जा रही है। बीईओ ने अपने उद्बोधन में कहा कि आप सभी यहाँ से जो सीखकर जायें उसे अपने कक्षा कक्ष मे लागू कर विकासखंड घोरावल को प्रेरक बनाएं।
प्रशिक्षण देने वालों में एआरपी दीनबन्धु त्रिपाठी, अखिलेश सिंह, धर्मराज सिंह व मिथिलेश द्विवेदी रहे।इस अवसर पर संजय मिश्रा, बिनोद कुमार ,आशीष निरंजन,रामरक्षा आलोक व हिमांशु मिश्रा तकनीकी सहायक के रूप में उपस्थित रहे। शिक्षकों में प्रशिक्षण को लेकर जबर्दस्त उत्साह देखा गया।

[/responsivevoice]

अपने शहर का अपना एप अभी डाउनलोड करें .

Loading...
Translate »

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com