पटना पुलिस ने बचाई व्यवसायी की जान, दबोचे गए कुख्यात पेशेवर सात अपराधी ।

व्यवसायी कल्लू जायसवाल हत्याकांड का भी हुआ खुलासा, बेऊर जेल से रची गई थी साजिश

पटना । राजधानी पटना के पत्रकार नगर थाना क्षेत्र स्थित एक अस्पताल में अपने परिवार का इलाज करा रहे दीदारगंज के एक व्यवसाई की हत्या करने के इरादे से आए इंटर डिस्ट्रिक्ट कुख्यात 7 अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है ।
इनके पास से तीन देसी पिस्टल ,8 जिंदा कारतूस, एक मैगजीन ,2 पल्सर बाइक एक स्प्लेंडर बाइक और एक s-cross कार भी बरामद हुआ है। इधर ,बीते दिनों राजधानी पटना के चौक थाना क्षेत्र में जमीन कारोबारी से जुड़े एक व्यवसाई की दिनदहाड़े हुई हत्या में शामिल हत्यारों के गिरोह को भी पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है। इन हत्यारो के पास से हत्या के समय पहने गए पोशाक और दो मोबाइल बरामद हुआ है ।
पटना के एस एस पी उपेंद्र शर्मा ने देर शाम एक संवाददाता सम्मेलन में इसकी जानकारी दी।एसपी श्री शर्मा ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि पत्रकार नगर थाना के मलाही पकड़ी के पास अपराध कर्मियों की गतिविधियां देखी जा रही है। एस एस पी के निर्देश पर सिटी एस पी पूर्वी के नेतृत्व में एस आई टी का गठन किया गया और पुलिस ने घेराबंदी कर मलाही चौकड़ी चौक के पास से 4 अपराधियों को गिरफ्तार किया ।तलाशी के दौरान इनके पास से दो लोडेड देशी पिस्टल ,पुलिस का स्टीकर लगा हुआ पल्सर बाइक के साथ कुल 3 बाइक बरामद किए गए। इन अपराधियों ने अपना नाम प्रवीण लवलू ,आशीष एवं अनीश बताया। पुलिसिया पूछताछ में इन अपराधियों ने यह स्वीकार किया कि मलाही पकड़ी के पास एक अस्पताल में अपने परिवार का इलाज करवा रहे हैं दीदारगंज व्यवसाय की हत्या की सुपारी लिए हुए थे । आज ही उस व्यवसाई की हत्या करनी थी। सुपारी देने वाला लाइनर अन्य अपराधियों के साथ सफेद रंग के कार में अस्पताल के पास व्यवसाई की पहचान करवाने के लिए अलग से खड़ा था। पुलिस की टीम ने तत्काल उन लोगों को भी दबोच लिया। इनके पास से तलाशी के दरमियान झारखंड के नंबर प्लेट की एक कार पर सवार चंदन, रंजीत ,और बंटी तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया गया। इन तीनों के पास से एक देसी पिस्टल और छह जिंदा कारतूस बरामद हुए। एस पी ने बताया कि व्यवसाई की हत्या किए जाने इस साजिश का कारण जमीन का विवाद है जिस पर 75 लाख के लेन-देन का मामला सामने आया है।सभी अपराधी पेशेवर है और भाड़े पर हत्या करने के साथ हैं अन्य अपराध भी करते हैं ।अपराधी लवलू पर पर हत्या लूट डकैती इत्यादि के आधा दर्जन से ज्यादा मामले दीदारगंज, बख्तियारपुर ,फतुहा और जुड़ावनपुर थाना में दर्ज र्है ।इसी प्रकार अपराधी बंटी उर्फ रोहित पर भी बख्तियारपुर एवम दीदारगंज थाना में भी 4 मामले दर्ज है ।अपराधी आशीष कुमार सिंह पर हाजीपुर और राघोपुर थाना में हत्या लूट डकैती और आर्म्स एक्ट के कई मामले दर्ज हैं ।प्रवीण भी कुख्यात अपराधी है और इस पर भी गौरीचक थाना में हत्या और आर्म्स एक्ट के मामले दर्ज है गिरफ्तार अपराधियों में पाँच वैशाली जिला के राघोपुर और जुड़ावनपुर के हैं जबकि दो अपराधी गोपालपुर और दीदारगंज के हैं।
इधर चौक थाना पुलिस ने भी विगत दिनों 5 अक्टूबर को अपने इलाके में हुए व्यवसायिक कल्लू जायसवाल हत्याकांड का भी खुलासा कर दिया है। एसपी श्री शर्मा ने बताया कि कल्लू जायसवाल के हत्या का मुख कारण जमीनी कारोबार है। उन्होंने बताया कि इस कांड में बेउर जेल में बंद कुख्यात अपराध कर्मी श्याम बाबू गोप ने रचा था ।इन अपराधियों के नाम विक्की उर्फ टिक टिक महेश कुमार और सुधीर पंडित बताया जाता है ।महेश विक्की और सुधीर पटना सिटी के चौक एवम खाजे कला थाना क्षेत्रों में दर्जनों अपराधिक वारदातों में नामजद बताये जाते हैं।

[/responsivevoice]

अपने शहर का अपना एप अभी डाउनलोड करें .

Loading...
Translate »

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com