पुलवामा शहीदों का यह बलिदान नहीं भूलेगा हिंदुस्तान

सोनभद्र।आज14 फरवरी19को जम्मू कश्मीर के पुलवामा मैं सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले के 1 साल पूरा होने पर इन शहीदों की याद में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन हर्ष नगर, रावटसगंज, सोनभद्र मैं किया गया ।

श्रद्धांजलि सभा में किसान मोर्चा के क्षेत्रीय महामंत्री गोविंद यादव जी द्वारा बताया गया 14 फरवरी 2019 को जम्मू श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर भारतीय सुरक्षाकर्मियों को ले जा रहे वाले सीआरपीएफ के वाहनों के काफिले पर आत्मघाती हमला हुआ जिसमें भारतीय सुरक्षा के 40 जवान शहीद हो गए। यह हमला जम्मू और कश्मीर के पुलवामा जिले के अवंतीपोरा के निकट लेथपोरा इलाके में हुआ था। जहां एक तरफ हम देश में।

अमन चैन की नींद सोते हैं वही हमारे देश के जवान। देश की रक्षा करने के लिए। शहीद होते रहते हैं। आज हमें गर्व है इन देश के जवानों पर ।
पूर्व जिलाध्यक्ष धर्मवीर तिवारी ने कहा की पुलवामा में हुए हमले ने देश को दहला दिया था। 1 साल पहले इस दिन का इतिहास जम्मू कश्मीर की बड़ी दुखद घटना के रूप में दर्ज की गई पुलवामा एक ऐसी हृदय विदारक घटना थी जिसने पूरे देश को शोक संतप्त किया । कश्मीर में पाक समर्थित आतंकवाद की दुनिया को सभी देशों ने कड़ी आलोचना की पुलवामा हमला एक ऐसी घटना थी जिसके बाद देश एक बड़े बदलाव की राह पर आकर खड़ा हो गया। इस हमले के बाद पाकिस्तान के बालाकोट में भारतीय सेना ने आतंकवादियों के खिलाफ बड़ी कार्यवाही को अंजाम दिया।

अनुसूचित मोर्चा के जिला अध्यक्ष अजीत रावत ने कहा। वैसे तो 14 फरवरी वैलेंटाइन डे यानी प्रेम दिवस के रूप में मनाया जाता है। लेकिन पिछले साल आतंकवादियों ने अपना नापाक, इरादा पूरा करने के लिए यह दिन जब देश के शहीदों ने वैलेंटाइन डे मनाया जा रहा था तब पुलवामा में पाकिस्तान समर्थित आतंकवादियों ने देश के सुरक्षाकर्मियों पर कायराना हमला किया कश्मीर पुलवामा जिले के जै ए मोहम्मद के एक आतंकवादी ने वाहन से सीआरपीएफ के जवानों की बस में टक्कर मार दी जिससे 40 जवान शहीद हो गए। यह आत्मघाती हलवा सुरक्षाबलों पर अब तक का सबसे बड़ा आतंकी हमला था आतंकवादियों को सबक सिखाने की बात करने वाली मोदी सरकार के लिए चुनाव से पहले घटना बहुत बड़ी चुनौती के रूप में सामने आई विपक्षी दलों ने सरकार पर सवाल उठाने शुरू कर दिए। इस मुद्दे पर पीएम नरेंद्र मोदी विपक्ष के निशाने पर थे। मोदी सरकार ने पूरी तरह टूट चुकी थी। हालांकि इस घटना के तुरंत बाद केंद्र सरकार की ओर से संकेत दे दिए गए थे कि भारत की ओर से सख्त कार्रवाई होगी। लोकसभा चुनाव से पहले पुलवामा हमले एक बड़ा मुद्दा बन चुका था पूरे देश में पाकिस्तान को सबक सिखाने की आवाज उठा रही थी। इसी बीच 26 फरवरी को खबर आई कि रात में 3:00 बजे भारतीय वायुसेना ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान में 100 किलोमीटर घुसकर बालाकोट में जैसे मोहम्मद के आतंकवादी कैंपों पर 1000 किलो के बम गिराए ऑपरेशन बालाकोट में एयर फोर्स में 12 मिराज फाइटर प्लेन का इस्तेमाल किया था। इसमें जैस ए मोहम्मद की आतंकी कैंपों को पूरी तरह तबाह कर दिया गया भारतीय वायु सेना की इस खबर के आने के बाद पीएम मोदी ने सशक्त नेता के तौर पर पेश किया भारतीय सेना की कार्रवाई से पूरे देश में राष्ट्रवाद उफान पर आ गया इस श्रद्धांजलि सभा में मुख्य रूप से। गुप्तकाशी के संयोजक रवि प्रकाश चौबे ध्रुव कांत द्विवेदी प्रकाश श्रीवास्तव अनुपम तिवारी अभिषेक गुप्ता, अमन वर्मा, राजन गुप्ता, योगेश सिंह, धीरेंद्र पांडे, आकाश अग्रवाल श्रीकांत सिंह श्रीकांत देव आकाश रावत शैलेंद्र रावत सम्मानित कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

[/responsivevoice]

अपने शहर का अपना एप अभी डाउनलोड करें .

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com