विकास के लिए बिजली आवश्यक है परंतु हमारा अंतिम उददेश्य संतुलित विकास करना है-देवाशीष सेन

एनटीपीस सिगरौली में वरिष्ठ अधिकारियों के लिए सम्प्रेषण कार्यषाला करायी गयी

image

शक्तिनगर सोनभद्र ।एनटीपीसी लिमिटेड/सिंगरौली सुपर थर्मल पावर स्टेषन  में विद्युत के वरिष्ठ अधिकारियों के लिए सम्प्रेषण कार्यशाला में अघ्यक्षीय उदबोधन देते हुए समूह महाप्रबंधक  देबाशीष सेन ने कहा कि विकास के लिए बिजली आवश्यक है परंतु हमारा अंतिम उददेश्य संतुलित विकास करना है। बिजली उत्पादन के साथ पर्यावरण संरक्षण के लिए हम परियोजना का संचालन दक्षतापूर्ण एवं पर्यावरण हितैषी तरीके से कर रहे है । वृक्षारोपण के अलावा स्वच्छ एवं हरित उर्जा की ओर अग्रसर है। आम जनता तक अपने विचारों अथवा अपनी गतिविधियों को सम्प्रेषित करना एक हुनर है । इसमें मीडिया का अहम रोल है । इसी उददेश्य से इस कार्याशाला का आयोजन किया गया है । अपनी कार्यो व सफलताओं को सार्वंजनिक करना या बड़े स्तर पर लाने की कला इस तरह की कार्यषालाओं से सिखा जा सकता है । इन्हीं षब्दों के साथ स्टेषन प्रमुख ने कार्यषाला की सफलता  के प्रति अपनी ष्षुभकामनायें व्यक्त की । कार्यषाला के लिए बतौर संकाय,  हिन्दी समाचार पत्र एचटी मिडिया ग्रुप के हिन्दी  हिन्दुस्तान के संपादक श्री  योगेश राणा को आमिं़त्रत किया गया था । श्री  राणा .ने कहा कि अर्थतंत्र के युग ने हमारी तमाम प्रक्रियाओं एवं पद्वतियों के बदल रही हैं । मीडिया भी संक्रमण काल के दौर से गुजर रहा है उसके स्वरूप में बडा परिवर्तन की चुनौतियां हम सब के समक्ष है । सम्बोधन तथा सम्प्रेषण की विधा से अवगत न होने के कारण बहुत सारे जिम्मेदार पदों पर कार्यरत लोग भी अपने संदेष को प्रभावी ढंग से नहीं रख पाते और कभी -कभी तो विचारों की अभिव्यक्ति में भूल के कारण विवाद की स्थिति तक आ जाती है । इसी क्रम में हिंदुस्तान वाराणसी के महाप्रबंधक श्री. बजरंग  सिंह. ने समाचार पत्र के प्रकाशन की बारिकियां रखते हुए सोशल मीडिया में अभिव्यक्ति के तौर तरीकों की को ध्यान रखते हुए कम से कम षब्द, वाक्य एवं वास्तविकता के आधार पर रखना उचित बताया । प्रेस विज्ञप्तियां जारी करने की पूर्व सावधानियों को रेखांकित करते हुए विवाद तथा भ्रामक स्थितियों से परहेज करने का परामर्ष रखा । इसके उपरांत हिंदुस्तान व्यूरो चीफ सुभ्रांसु शेखर एवं अनपरा प्रतिनधि अखिलेश भटनागर ने अपने बहुमूल्य अनुभवों को रखते हुए कहा कि समाचार लेखन करते समय हमें नैतिक मर्यादाओं को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए ! मानवीय एवं सकारात्मक समाचारों को पहले स्थान मिलना चाहिए ! इस अवसर पर आलोक गुप्ता, महाप्रबंधक प्रचालन एवं अनुरक्षण, श्री संजय मिश्रा, महाप्रबंधक प्रचालन , श्री एस.मंडल, महाप्रबंधक अनुरक्षण विशेष रूप से उपस्थित थे । कार्यक्रम में अपर महाप्रबंधक श्री बी के सिंह, डॉ एम एम साब्दे ए सी ठाकुर, अनिल कुमार जाडली,  अमित कुमार,  बी डी त्रिपाठी, डी के सारस्वत, सजय कुमार पांडेय प्रश्न सत्र ने सक्रिय प्रतिभागिता की  । कार्यषाला का संयोजन तथा संचालन श्री आदेष कुमार पाण्डेय,  प्रबंधक मा0संसा0-राजभाषा द्वारा किया गया ।

Translate »

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com