जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा ने सेवापुरी ब्लाक संतृप्तीकरण के कार्यों में से एक आंगनबाड़ी केंद्रों की सेवाओं की जानकारी ली

पुरुषोत्तम चतुर्वेदी की रिपोर्ट

वाराणसी।जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा द्वारा आज सेवापुरी ब्लाक संतृप्तीकरण के कार्यों में से एक आंगनबाड़ी केंद्रों की सेवाओं की जानकारी ली गयी।
* जिलाधिकारी ने आंगनबाड़ी सुपरवाइजर, कार्यकत्रियों और लाभार्थियों की सेवापुरी सभा कक्ष में बैठक करते हुए कहा कि सेवापुरी ब्लाक को आदर्श ब्लाक के रुप में विकसित करने में अहम भूमिका निभाने वाली आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को स्वास्थ्य, शिक्षा, स्वच्छता, व्यवहार परिवर्तन के कार्य में निपुणता अवश्य होनी चाहिए।
* उन्होंने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों से लोगों को किस प्रकार से क्या क्या जानकारी देती हैं इसके बारे में एक एक कर पूछताछ की।
* आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों से गर्भवती माताओं को स्वस्थ्य सम्बंधी जानकारी, खानपान, नवजात की देखभाल स्तनपान, टीकाकरण, कुपोषित बच्चों की देखभाल व इलाज की जानकारी, किशोरियों को साफ सफाई व स्वास्थ्य की जानकारी देने, 3 से 6 साल के बच्चों को दैनिक और सामाजिक जीवन के व्यवहार प्रशिक्षण व शिक्षण कार्य आदि के बारे में पूछा।
* बच्चों का वजन और हाइट मापने की विधि के बारे में कार्यकत्रियों से पूछा।
* किशोरियों से साफ सफाई व स्वास्थ्य का ध्यान रखने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि कैसे मटका विधि ,शंका समाधान पेटिका आदि के द्वारा साफ सफाई का ध्यान रखा जाता है।
* जिलाधिकारी ने पूछा बच्चों को कौन-कौन से खेल सिखाये जाते हैं।
* उन्होंने कार्यकत्रियों द्वारा माताओं को क्या जानकारी दी गई इसके बारे में माताओं से भी पूछताछ की कि वे अपना और कपने बच्चों के स्वास्थ्य का ध्यान कैसे रखती हैं उनका टीकाकरण आदि के प्रति कितनी जागरुक हैं।
* सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर हेल्थ किट रखवाने का निर्देश देते हुए उसमें डेटाल, काटन, सेवलान, बैंडेज आदि जरुरी चीजें रखी जायें।
* किशोरियों और माताओं को कहा कि मास्टर ट्रेनर बनाया जाये। आगे आपको को ही समाज में स्वास्थ्य, शिक्षा, सेनिटेशन, न्यूट्रीशन प्रति जागरूकता फैलाने तथा व्यवहार परिवर्तन कराने की जिम्मेदारी निभानी होगी आगे आने वाली पीढ़ी को सिखाना और समाज को आगे बढ़ाने होगा इसके लिए सभी किशोरियों को समूहों से जोड़ने पर जोर दिया।
* गांव का एक भी बच्चा लाल श्रेणी में न रहे यह माता पिता, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों, आशाओं व एएनएम सहित सबकी जिम्मेदारी है।
* व्यवहार परिवर्तन के लिए तीन दिन का प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाने का निर्देश दिया।
* आदर्श गांव को शिकायत मुक्त बनाने के लिए हर गांव में शिकायती कैम्प लगाये जाने का निर्देश दिया जिससे गांव की समस्या का समाधान गांव में ही हो जाये।
* शिकायती कैम्प में प्राप्त शिकायतों का मौके पर उसी दिन निस्तारण किये जाने का निर्देश दिया गया।
* जिलाधिकारी ने सेवापुरी के सिरिहिरा ग्राम पंचायत के कम्पोजिट विद्यालय का निरीक्षण किया तथा पंचायत भवन देखा।

[/responsivevoice]

अपने शहर का अपना एप अभी डाउनलोड करें .

Loading...
Translate »

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com