बैंकॉक में बोले पीएम मोदी- अब 5 साल में ऐसे काम करने हैं जो अब तक असंभव थे

एजेंसी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन दिन की यात्रा पर थाइलैंड पहुंच गए हैं. यात्रा के पहले दिन बैंकॉक के निमिबत्र स्‍टेडियम में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए हजारों लोगों की मौजूदगी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने चिरपरिचित अंदाज में नमस्कार, केम छो, वडक्कम बोलकर लोगों को रोमांचित कर दिया। पीएम मोदी ने कहा, भारतीयों ने थाइलैंड को अपने रंग में रंग दिया है। यहां पर भारत के पूर्वी हिस्से से काफी लोग आए हैं। आज भारत में छठ का पर्व मनाया जा रहा है।

प्रधानमंत्री ने भारत और थाइलैंड के बीच संबंधों का जिक्र करते हुए कहा, ”हमारे रिश्ते सरकारों के कारण नहीं है। इतिहास की हर घटना ने हमारे संबंधों को गहरा किया है। नई ऊंचाईयों पर पहुंचाया है। हमारे रिश्ते दिल के हैं। आध्यात्म के हैं,हमारा जुड़ाव हजारों साल पुराना है, भारत के दक्षिण पूर्वी और पश्चिमी तट हजारों साल पहले दक्षिण पूर्वी एशिया के साथ समुद्र के साथ जुड़े हैं। हमारे नाविकों ने हजारों मील का रास्ता तय कर संस्कृति और समृद्धि के सेतु बनाएं हैं, वह आज भी विद्धमान हैं।”

पीएम मोदी ने कहा, ”भगवान राम की मर्यादा और बुद्ध की करुणा हमारी साझी विरासत है। गरुड़ के प्रति थाइलैंड में गहरी आस्था है। हम भाषा के जरिए भी एक दूसरे से जुड़े हैं। भारतीय जहां भी रहते हैं, उनमें भारतीयता रहती है। जब भारतीयों को तारीफ होती है, तो मुझे गर्व की अनुभूति होती है। पूरे विश्व में भारतीय समुदाय की ये छवि हर हिंदुस्तानी के लिए बहुत गर्व की बात है। इसके लिए विश्व भर में फैले हुए आप सभी बंधु बधाई के पात्र हैं। मुझे इस बात की खुशी होती है, विश्व में जहां भी भारतीय रहते हैं, वह भारत के संपर्क में रहते हैं।’

पीएम मोदी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, आज 130 करोड़ भारतीय न्यू इंडिया के निर्माण में लगे हैं। आज लोगों को भारत में परिवर्तन साफ दिखाई देते होंगे।इसी का परिणाम है कि इस बार के चुनाव में लोगों ने मुझे एक बार फिर चुना। इस बार सबसे ज्यादा 60 करोड़ लोगों ने वोट डाले। ये लोकतंत्र की सबसे बड़ी घटना है।लोगों की हैरत होती है कि इतने बड़े चुनाव होते कैसे हैं. पहली बार महिला मतदाता पुरुषों के बराबर वोट कर रही हैं।

अपने शहर का अपना एप अभी डाउनलोड करें .

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com