बलि देने के लिए बच्चे के गले में त्रिशूल मारा, लोगों ने साधु की पीट-पीटकर हत्या कर दी

0





कौशाम्बी. यहां भीड़ ने एक साधु की पीट-पीटकर हत्या कर दी। साधु पर कथित तौर पर एक बच्चे की बलि देने के कोशिश का आरोप था। पुलिस ने जानकारी मिलते ही घायल बच्चे और साधु को जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। इलाज के दौरान साधु की मौत हो गई। पुलिस ने पांच नामजद और 50 अज्ञात लोगों पर गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

कौशाम्बी थाना क्षेत्र के कोसम इनाम गांव निवासी महाजन का 10 साल का बेटा रिंकू रविवार की देर शाम हड़बड़ाहट में भागते हुए घर पहुंचा। उसने परिजनों को बताया कि यमुना नदी के किनारे मंदिर के एक साधु ने उसे और भाई पिंटू (8 साल) को मंदिर में बुलाया और बैठने के लिए कहा। तभी अचानक साधु ने त्रिशूल से पिंटू के गले पर हमला कर दिया। इसके बाद वह डर कर वहां से भाग आया। घटना के बाद परिजन और ग्रामीण गुस्से में मंदिर पहुंचे।

बच्चे के गले से खून निकलता देख भीड़ ने आपा खोया

मंदिर में पिंटू के गले से खून निकलता देख लोगों ने आपा खो दिया। लोगों ने साधु पर हमला बोलते हुए उसे पीट-पीटकर घायल कर दिया। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने साधुको जिला अस्पताल में भर्ती कराया। यहां इलाज के दौरान सोमवार दोपहर में साधुकी मौत हो गई। पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद सेशिनाख्त कीकोशिश की, लेकिन सफलता नहीं मिली।

एडिशनल एसपी अशोक कुमार के मुताबिक, सोमवार रात इस हत्याकांड में 5 नामजद और 50 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। लोगों ने बताया गया है कि यह साधु किसी बच्चे को पकड़ने का प्रयास कर रहा था, जिसकी अफवाह पर भीड़ ने पीट-पीट कर उसकी हत्या कर दी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


uttar praqdesh kaushambi sadhu died due to beaten the villagers



Source link

Share.

About Author

Leave A Reply

error: Content is protected !!