ओबरा सी प्लांट के निर्माण में वृक्षादोहन और अत्यधिक भूमि अधिग्रहित करने की जांच हो – विजय शंकर यादव

0

– वृक्षो के कटान में परियोजना करा रहा बड़ा घोटाला
1320 मेगावाट की ओबरा सी परियोजना है।

ओबरा / सोनभद्र (रवि पांडेय)सूबे में बिजली की समस्या से निजात पाने के लिए प्रदेश सरकार ने ओबरा में 1320 मेगावाट की इकाई स्थापित करने का कार्य कर रही है जिसके निर्माण का कार्य कोरियाई कम्पनी दुसान कर रही है और इस परियोजना के स्थापित करने के लिए ओबरा परियोजना की कई कालोनियों को उजाड़ जा चुका है तथा भारी पैमाने पर वृक्षो का कटान कर घालमेल किया गया है जिसके जांच की मांग भारतीय छात्र उत्थान समिति करती है। समिति के संयोजक विजय शंकर यादव ने कहा कि 10 लाख पौधरोपण की मांग कर रही भारतीय छात्र उत्थान समिति को  पता चला कि सेक्टर  2,  3 व 4 को विस्तारित क्षेत्र में डालते हुए ओबरा निगम प्रशासन ने पेड़ काटने का टेण्डर निकाला है। संगठन के संरक्षक विजय शंकर यादव ने कहा कि 5 6 7 सेक्टर के पेड़ काटे जा रहे है।पहले सेक्टर 5,  6 व  7 अब 2,  3 व  4 समेत कुल 6 सेक्टरों को विस्तारित करने की प्लान सिर्फ सी प्लांट को लगाने के आशय से हो रहा है। संगठन द्वारा जनहित में नक्शा सार्वजनिक करने की मांग को निगम प्रशासन अनसुनी कर रहा है। देश प्रदेश में जहाँ भी प्लांट लगते है वहाँ नक्शा सार्वजनिक कर उस क्षेत्र के सार्वजनिक स्थलों पर लगाया जाता है। जो अब तक नही हो सका। नगर में अत्यधिक पेड़ कट जाने से नगर का तापमान अत्यधिक बठ गया है।लोगो के स्वास्थ्य जीवन पर असर पड़ रहा है। निगम के पास डॉक्टरों की भी कमी है। संगठन सरकार से मांग करती है ।
निगम प्रशासन के पेड़ काटने की प्रक्रिया की जांच की जाये। निगम ने लाखों पेड़ 5 6 7 सेक्टरों में काट डाले। पर अब तक भूले से भी पेड़ नही लग सका क्यो।  सी प्लांट के नाम पर अत्यधिक भूमि बाजार कालोनी स्कूल इत्यादि नगर के धरोहर उजाड़े जा रहे है। इसकी जांच कराई जाये।
अब सेक्टर 2 , 3 व 4 के पेड़ काटने का टेंडर हो रहा है। अत्यधिक पेड़ो का कटना कही से उचित नही है। सत्य परक जांच कराई जाये। निगम प्रशासन को यूपी सरकार 10 लाख पौधारोपण करने का निर्देश जारी करे।पर्यावरण के प्रति चिंता व्यक्त करते हुए समाजसेवी खुर्शीद आलम ने कहा कि नगर में अत्यधिक वृक्षादोहन से बठते ताप मान से जनजीवन को खतरा बठ रहा है समय रहते इसे रोका जाए। वृक्षारोपण अभियान चलाने वाला संगठन भारतीय छात्र उत्थान समिति के जनहित कारी मांगो पर सरकार ध्यान दे। निगम प्रशासन को पौधरोपण करने का निर्देश जारी किया जाये।

Share.

About Author

Leave A Reply

error: Content is protected !!