गोंडा जनपद की सामान्य खबर

0

छेड़खानी का प्रयास

‬गोंडा।
सरकारी स्कूल में गई नाबालिग लड़की को पकड़कर युवक ने किया छेड़खानी का प्रयास। शौच के लिए स्कूल से बाहर खेत में जा रही थी लड़की। लड़की के शोर मचाने पर लोगो ने युवक को दबोचा। डायल 100 पुलिस ने मौकेपर पहुंचकर आरोपी को लिया हिरासत में। स्कूल का शौचालय बद से बदतर, जो उपयोग के लायक नहीं। सरकारी प्राथमिक विद्यालय की है पीड़ित छात्रा। इटियाथोक थानाक्षेत्र अंतर्गत बुधवार दोपहर की घटना।

*************************
विधालयो में चल रहा मनमानी
गोंडा।
सरकार के लाख कोशिशों के बावजूद भी परिषदीय विद्द्यालयो की व्यवस्था में सुधार नही, तमाम विद्द्यालयो में अव्यवस्थाओ की भरमार। जिम्मेदारों की मनमानी से क्षेत्र के तमाम प्राथमिक विद्द्यालयो में निर्मित शौचालयो की दशा अत्यंत खराब, अनेक विद्द्यालयो में बाउंड्रीवाल मौजूद नही। शौचालय में भीषण गंदगी व उनकी खराब व्यवस्था और बाउंड्रीवाल के अभाव में स्कूली बच्चो सहित गुरुजनो को भारी दिक्कत। बीएसए और बीईओ ने कहा जल्द करेंगे प्रकरण की जांच। गोंडा जिले के इटियाथोक शिक्षाक्षेत्र का मामला।
—————- —–     ————————————-
मतदेय स्थलों का निर्धारण
गोंडा।
उपजिला निर्वाचन अधिकारी रत्नाकर मिश्र ने नवसृजित नगर पंचायत परसपुर में वार्डवार विभाजन के उपरान्त मतदान केन्द्रों एवं मतदेय स्थलों का निर्धारण कर दिया है। यह जानाकरी देते एडीएम श्री मिश्र ने बताया कि परसपुर नगर पंचायत के प्राथमिक विद्यालय मतदान केन्द्र नकई मतदान स्थल पूरे मकरन्द पर बार्ड नम्बर 1, 2 व 3, प्राथमिक विद्यालय पूरे दौलत मतदान स्थल पूरे दौलत उत्तरी से वार्ड नम्बर 4,5,6,7,8 व 9 तथा प्राथमिक विद्यालय पूरे दौलत के मतदानस्थल पूरे दौलत दक्षिणी से वार्ड नम्बर 10, 11, 12,13 14 व 15 सम्बद्ध किए गए हैं।

*************************

*तहसील सदर में आयोजित हुआ एक दिवसीय विधिक साक्षरता शिविर*

गोंडा।
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में तहसील सदर सभागार में एक दिवसीय विधिक साक्षरता शिविर का अयोजन किया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव सिविल जज सीनियर डिवीजन अरविन्द गौतम की अध्यक्षता में आयोजित शिविर में आगामी 10 फरवरी को आयोजित होने वाली राष्ट्रीय लेाक अदालत के आयोजन के सम्बन्ध में जानकारी दी गई। शिविर में ही सचिव द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं पर विशेष चर्चा करते हुए अपील की गई कि हम लोगों को बेटा-बेटी का भेदभाव खत्म करना होगा तभी हमारा समाज सर्वांगीण विकास कर सकेगा। उन्होने अपील कि आयोजित होने वाली लोक अदालत में लोग ज्यादा से ज्यादा अपने वादों को पंजीकृृत कराएं और सुलह समझौतों के आधार पर निस्तारित कराकर अवसर का लाभ उठावें। इस अवसर पर तहसीलदार सदर एस0एन0 त्रिपाठी, पैनल अधिवक्ता, रिटेर तथा अन्य राजस्व कर्मी, विधिक सेवा प्राधिकरण कार्यालय से अशोक गुप्ता व अन्य उपस्थित रहे।

*************************

*डीएम ने दिव्यांगों को बांटे उपकरण*

गोंडा।
उत्तर प्रदेश सरकार के सहयोग से दिव्यागंजन कल्याण विभाग द्वारा बुधवार को निःशुल्क दिव्यांग उपकरण प्रदान किए गए। डीएम जेबी सिंह, सीडीओ दिव्या मित्तल व जिलाधिकारी की धर्मपत्नी अंजू सिंह ने दिव्यांगजनों को निःशुल्क दिव्यांग उपकरण प्रदान किए। जिला दिव्यांगजन कल्याण अधिकारी एस0के0 सिंह ने बताया कि प्रदेश सरकार के सहयोग से 46 दिव्यांगों को ट्राईसाइकिल, 8 दिव्यांगों को बैसाखी तथा 2 दिव्यांग को श्रवणयंत्र प्रदान किए गए। उपकरण वितरण के उपरान्त जिलाधिकारी, सीडीओ, जिलाधिकारी की धर्मपत्नी, एडीएम, सिटी मजिस्ट्रेट, मुख्य कोषाधिकारी सम्पूर्णानन्द द्विवेदी व अन्य अधिकारियों ने दिव्यांगों को अल्पाहार वितरित किए। इस अवसर पर सीडीओ दिव्या मित्तल, एसडीएम रत्नाकर मिश्र, सिटी मजिस्ट्रेट पीडी गुप्ता, अपर उपजिलाधिकारी बीके प्रसाद, जिला दिव्यांगजन कल्याण अधिकारी एस0के0 सिंह, सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

—————-////————–////———————

*राजस्व की मण्डलीय समीक्षा बैठक में आयुक्त ने 2 अधिकारियों से मांगा स्पष्टीकरण*

*एन्टीभूमाफिया से सम्बन्धित मामलों को एक सप्ताह के भीतर निस्तारित करने के दिए निर्देश*

गोंडा।
सिंचाई विभाग के तहत उतरौला में नहर की गैप की जमीन खाली न कराने पर व बांट माप सहायक नियंत्रक देवीपाटन मण्डल के बिना सूचना अनुपस्थित रहने पर स्पष्टीकरण तलब किया गया है। यह कार्यवाही देवीपाटन मण्डल के आयुक्त एस0वी0एव0 रंगाराव ने आयुक्त सभागार में आयोजित मण्डलीय राजस्व कार्यों से सम्बन्धित समीक्षा बैठक के दौरान की है। आयुक्त ने बैठक में एन्टी भूमाफिया के तहत चिन्हांकित 4168 प्रकरणों में अभी भी 215 प्रकरणों के लम्बित रहने पर असंतोष व्यक्त करते हुए एक सप्ताह के भीतर निस्तारण के निर्देश  दिए है। खनन मामले में स्पष्ट चेतावनी देते हुए आयुक्त ने कहा कि यदि खनन पट्टा चिन्हांकन में किसी भी प्रकार की शिथिलता या लापरवाही बरती गई तो सम्बन्धित के खिलाफ निश्चित ही कठोर कार्यवाही की जाएगी। ज्ञात हुआ कि जनपद गोण्डा में 1287 के सापेक्ष 77, बलरामपुर में 249 के सापेक्ष 53, बहराइच में 1346 के सापेक्ष 36 तथा जनपद श्रावस्ती में 1286 के सापेक्ष 49 मामले अभी लम्बित हैं। मण्डल में एन्टीभूमाफिया के तहत अब 303 लोगों की गिरफ्तारी की गई है तथा 195 एफआईआर दर्ज हुई हैं। कर-करेत्तर एवं राजस्व वसूली की समीक्षा के दौरान राजस्व वसूली में जनपद बलरामपुर की स्थिति सबसे खराब 60.57 प्रतिशत पाई गई। आयुक्त ने एडीएम बलरामपुर को सुधार लाने के निर्देश दिए हैं। इसी प्रकार विद्युत देयों में जनपद श्रावस्ती विद्युत प्रवर्तन कार्य में बलरामपुर व श्रावस्ती, मनोरंजन में श्रावस्ती, नजलू में बलरामपुर व श्रावस्ती,  अलौह खनन में श्रावस्ती, खतौनी में सहखातेदारों के अंश निर्धारण व आधार सीडिंग कार्य में श्रावस्ती पीठे पाए गए। आयुक्त ने सभी अपर जिलाधिकारियों को पन्द्रह दिनों के भीतर सुधार के रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं। मण्डल में अविवाद वरासत दर्ज करने के कुल 91632 मामलों का निस्तारण किया गया जिसमें श्रावस्ती अव्वल रहा। इसी प्रकार राजस्व वादों के निस्तारण में श्रावस्ती सबसे पीछे,जनपद बहराइच व बलरामपुर तीसरे नम्बर पर निस्तारण में गोण्डा पहले नम्बर पर रहा। पूरे मण्डल में राजस्व सम्बन्धी कुल 29944 वाद विभिन्न न्यायालयों पर लम्बित पाए गए जिनमें 4959 वाद ऐसे हैं जो विगत पांच वर्ष से अधिक सयम सीमा से लम्बित हैं। आईजीआरएस की समीक्षा के दौरान श्रावस्ती प्रथाम, गोण्डा द्वितीय, बलरामपुर तृृतीय व बहराइच चैथे स्थान पर रहा। मण्डल में अब तक 81582 शिकायतें प्राप्त हुईं जिनमें से 75903 शिकायतों का निस्तारण कर दिया गया। इसी प्रकार दाखिल खारिज के मामलों में विशेष सवाधानी बरतने की भी चेतावनी आयुक्त ने दी है। उन्होने सभी एडीएम को निर्देश दिए कि 122बी के मामले जो भी न्यायालयों पर लम्बित उन्हें एक माह के भीतर निपटाकर रिपोर्ट दें। इसी प्रकार उन्होने निर्देश दिए कि निर्वाचन/मतदाता पुनरीक्षण कार्य बेहतरीन ढंग से करने वाले अधिकारियों को भी सम्मानित किया जाय। बैठक में अपर आयुक्त प्रशासन आर0एन0 वाजपेयी, आरटीओ डीके पाण्डेय, उपायुक्त आबकारी ए0के0 राय, डीसी फूड मनोज कुमार, ज्वाइन्ट कमिश्नर वाणिज्यकर डीपी शाहू, एडीएम गोण्डा रत्नाकर मिश्र, एडीएम बलरामपुर अरूण कुमार शुक्ला, एडीएम श्रावस्ती ओपी सिंह, एडीएम बहराइच, एसओसी जेडी यादव सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

————/////————-/////———————

*आकांक्षा समिति की अध्यक्षा/डीएम की धर्मपत्नी ने रक्तदान शिविर का किया शुभारम्भ*

*स्वयं रक्तदान कर डीएम की धर्मपत्नी ने कायम की मिसाल, सीडीओ व सीएमओ ने भी किया रक्तदान*

*रक्तदान से बड़ा कोई दान नहीं-अंजू सिंह*

गोंडा।
आकांक्षा समिति के तत्वाधान में बुधवार को कलेक्ट्रेट परिसर में रक्तदान शिविर का आयोजन हुआ। शिविर का शुभारम्भ समिति की अध्यक्षा जिलाधिकारी जेबी सिंह की धर्मपत्नी अंजू सिंह ने फीता काटकर किया। डीएम की धर्मपत्नी ने मिसाल कायम करते हुए शुभारम्भ के तुरन्त बाद सबसे पहले खुद रक्तदान किया। इसके बाद सीडीओ दिव्या मित्तल, सीएमओ डा0 संतोष श्रीवास्तव, सीएमओ की धर्मपत्नी शशी श्रीवास्तव, कलेक्ट्रेट संघ के मंत्री सुरेन्द्र, ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर अमित गुप्ता, सीआरओ के स्टेनो इंद्रजीत गौड़, स्टेनो वीके मिश्र सहित रोटरी क्लब के सदस्योें ने रक्तदान किया। इस अवसर पर आकांक्षा समिति की अध्यक्षा श्रीमती सिंह ने कहा कि प्रत्येक रक्तदान जीवन का उपहार है। रक्तदान से बड़ा कोई दान नही क्योंकि इससे किसी को जीवन दान मिलता है। रक्तदान कर किसी व्यक्ति को जीवन का उपहार दिया जा सकता है। स्वैच्छिक रक्तदान से प्राप्त रक्त ही सबसे सुरक्षित होता प्रत्येक रक्दान किसी ना बीमार लोगों को रक्तदान के माध्यम से नया जीवन दिया जाता है। इसलिए रक्तदान जैसे पुनीत कार्य में हर जिम्मेदार व्यक्ति को हिस्सा लेना चाहिए और रक्तदान कर दूसरों को जीवन देने का काम करना चाहिए। इसीलिए कहा गया है के रक्तदान महादान है क्योंकि दान किया गया खून किसी मरीज की जान बचाता है इसीलिए हम सभी को रक्तदान अवश्य करना चाहिए। इस अवसर पर सीएमओ डा0 संतोष श्रीवास्तव ने कहा कि विशेषज्ञों के अनुसार 18 वर्ष से 65 वर्ष तक का कोई भी स्वास्थ्य आदमी और जिसका वजन लगभग 45 किलोग्राम से ऊपर हो तीन महीने के अंतराल के बाद खूनदान कर सकता है। रक्तदान कोई मुश्किल काम नहीं होता बल्कि इससे शरीर को कोई नुक्सान भी नहीं पहुंचता और ना ही किसी प्रकार की कमजोरी होती है बल्कि निकाले गए खून की जगह कुछ दिनों के बाद नया खून बन जाता है इसीलिए हर वर्ष बहुत सारे रक्तदान कैंप लगाए जाते हैं। गर्भवती माताओं एवं अन्य गंभीर रूप से बीमार व्यक्तियों हीमोफीलिया, थैलीसीमिया जैसे रोग से ग्रसित बच्चों को रक्तदान के माध्यम से नवजीवन दिया जा सकता है। जन-मानस में अभी भी रक्तदान को लेकर कई भ्रांतियां व्याप्त हैं जबकि विशेषज्ञों की राय में 18 वर्ष से 65 वर्ष तक का कोई भी स्वस्थ व्यक्ति जिसका वजन 45 किलोग्राम से अधिक हो, तीन माह के अन्तराल पर रक्तदान कर सकता है। समाज में रक्तदान के बढ़ते महत्त्व के प्रति जागृति एवं सजगता पैदा करने के अभिप्राय से कलेक्ट्रेट में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया है। रक्तदान कैम्प में प्रतिभाग करने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों को समिति की अध्यक्षा द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।
रक्त्दान शिविर के शुभारम्भ के अवसर पर जिलाधिकारी गोण्डा जेबी सिंह, सीडीओ दिव्या मित्तल, एडीएम रत्नाकर मिश्र, नगर मजिस्ट्रेट पीडी गुप्ता, अपर उपजिलाधिकारी बीके प्रसाद, मुख्य कोषाधिकारी सम्पूर्णानन्द द्विवेदी, रोटरी क्लब से संजू छाबड़ा, उमेश शाह, जिला अस्पताल से डा0 विशाल श्रीवास्तव, डा0 अजीत सिंह, एच0बी0 मणि त्रिपाठी, आनन्द, अमरेश, अनुपमा, सतेन्द्र सिंह, शैलेष  व ब्लड बैंक का स्टाफ मौजूद रहा।

Share.

Leave A Reply

error: Content is protected !!