Breaking News
Home / Sonebhadra / अपने ही गढ़ में मात खायी भाजपा,आखिर जिम्मेदार कौन..?

अपने ही गढ़ में मात खायी भाजपा,आखिर जिम्मेदार कौन..?


@राकेश गुप्ता
दुद्धी-अ
भी हाल ही में हुए नगर निकाय चुनाव में नगर पंचायत दुद्धी के भाजपा प्रत्याशी की अपने ही गढ़ में हार होने से आम लोग भौचक रह गए । नगर पंचायत चुनाव में भाजपा ने इस बार बड़ी सूझ बुझ के साथ अनारक्षित सीट पर योग्य कर्मठ ईमानदार प्रत्याशी को चुनावी मैदान में उतारा था ।एक दिसम्बर को आये चुनावी नतीजे में भाजपा प्रत्याशी की हार ने सबको स्तब्ध कर दिया यही नही भाजपा प्रत्याशी काफी जदोजहद के बाद 1265 मत पाकर तीसरे स्थान पर रहे।नगर पंचायत चुनाव में प्रभारी मंत्री अर्चना पाण्डेय व जिलाध्यक्ष अशोक मिश्रा व दुद्धी विधायक हरिराम चेरो के चुनाव प्रचार में सहभागिता व जनसम्पर्क रोड शो आदि में अहम भूमिका निभाई लेकिन सकारात्मक परिणाम लाने में विफल रहे। और स्टार प्रचारक के बाद भी भाजपा प्रत्याशी अपने ही गढ़ में मात खा गए। भाजपा अपने गढ़ में क्यों हारी इस पर विचार जारी है लेकिन इस हार की जिम्मेदारी कौन लेगा यह जनचर्चाओ में है।स्थानीय स्तर पर कार्यकर्ताओ की गतिविधियों पर गौर करे तो भाजपा कार्यकर्ता एक दूसरे पर आरोप -प्रत्यारोप कर हार का ठिगरा फोड़ने में जुटे है जबकि हार के सही कारणों को खुद से छिपा रहे है।भाजपा के नगर पंचायत दुद्धी की हार से दो चीजे सामने आयी है पहली ए की पार्टी संघटन द्वारा जमीनी स्तर पर सर्वे के बगैर प्रत्याशियो को मैदान में उतारा गया और दूसरी यह कि पार्टी कार्यकर्ताओ द्वारा बूथ स्तर की मेहनत भेद- भाव की भेट चढ़ गयी और परिणाम निर्दल के पक्ष में आया। प्रदेश भर से आए चुनाव परिणाम में यह तो तय हो गया कि शहरी क्षेत्र में भाजपा मजबूत स्थित में है वही ग्रामीण क्षेत्रो में और मजबूती की आवश्यक है।यह तभी सम्भव है जब संघठन जिले से लेकर बूथ स्तर पर नेतृत्वकर्ताओं के नेतृत्व में फेर बदल करे।

About Naushad Ansari/Sanjay Dwivedi

Check Also

उपजिलाधिकारी के खिलाफ अधिवक्ताओ ने खोला मोर्चा,प्रदर्शन नारेबाजी

@राकेश/भीम दुद्धी-उपजिलाधिकारी के खिलाफ आज संयुक्त बार संघ के अधिवकजताओ ने आज उग्र रूप धारण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: